पूर्णिया: हर तरफ अतिक्रमण का डेरा, प्रशासन सुस्त जनता त्रस्त

नीरज झा/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:  जिले के बनमनखी अनुमंडलीय बाजार में अतिक्रमण के मामले में अधिकारियों का आश्वासन नेताओं की चुनावी घोषणा बनकर रह गया है। जिससे बाजार की सूरत बद से बदतर होती जा रही है। दरअसल नगर पंचायत क्षेत्र की सड़क के किनारे जहां तहां वेंडिंग दुकानें खुल रही हैं। जिससे बाजारों की संकीर्णता बढ़ती जा रही है। हालात यह है कि सड़कों पर एक साथ दो बाइकों को निकालना भी कठिन हो रहा है। इस दिशा में नगर पंचायत प्रशासन के साथ- साथ अनुमंडल प्रशासन भी संवेदन शून्य है। दोनों स्तर से हर बार आश्वासन का झुनझुना थमाया गया। नगर पंचायत प्रशासन की कुम्भकर्णी निंद्रा के अतिक्रमणकारियों का मनोबल काफी बढ़ा हुआ है। खासकर नेहरू चौक, वीर कुंअर सिंह चौक, नगर पालिका चौक, राजहाट समेत प्रमुख चौक- चौराहों पर अतिक्रमणकारियों का दबदबा है।
कहीं लगती है दुकान तो कहीं वाहनों का ठहराव
प्रशासनिक शिथिलता का आलम यह है कि कहीं सड़क पर दुकानें सजी है तो कहीं वाहनों का ठहराव है। मसलन जिसको जहां मन आया वहीं कब्जा कर धंधा चलाने लगता है। चौक चौराहों पर खुदरा सब्जी एवं कसाई के दुकानदारों का बोलबाला है। जबकि बस पड़ाव के स्थल के निर्धारण के बावजूद यत्र तत्र वाहन पार्क किए जाते हैं। चीनी मील रोड, हृदय नगर चौक, नेहरू चौक, नगर पंचायत कार्यालय के आगे समेत आधा दर्जन स्थानों पर ऑटो वालों का कब्जा है। इन जगहों पर बस पड़ाव नहीं होते हुए भी बैरियर आदि वसूल किए जाते हैं। प्रशासन को इसकी भनक होते हुए भी इन पर कार्रवाई बूते के बाहर है। हैरत करने वाली बात तो यह है कि एसडीओ अपने आवास से कार्यालय रोज आते जाते वाहन चालकों एवं फुटकर दुकानदारों की मनमानी से दो- चार होते हैं, परन्तु उन्हें टोकना तक भी एसडीओ को नागवार है।

कब कब हुई थी घोषणा
यूं तो आए दिन नगर पंचायत प्रशासन एवं अनुमंडल प्रशासन की ओर से अतिक्रमण पर बराबर आश्वासन दिया जाता है। लेकिन दुर्गापूजा एवं दीपावली जैसे पर्व के समय अनुमंडल प्रशासन की ओर से विशेष तौर पर बाजार को अतिक्रमणमुक्त कराने की घोषणा की गई थी। दुर्गापूजा से पूर्व नगर पंचायत कार्यालय में जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान मुहर्रम के बाद हर हाल में बाजार से फुटकर दुकानों को मार्केटिंग यार्ड में शिफ्ट करने की घोषणा स्वयं एसडीओ ने की थी। इसके बाद प्रशासन ने दीपावली का बहाना बनाकर छठ के ठीक बाद बाजार को अतिक्रमणमुक कराते हुए वाहनों के लिए पार्किंग की व्यवस्था और ऑटो वगैरह को निर्धारित स्थान पर लगाने का आश्वासन दिया गया था। लेकिन प्रशासन के लिए छठ के ठीक बाद का समय अब तक नहीं मिल पाया है।

बनमनखी के एसडीओ मनोज कुमार ने कहा नगर पंचायत के जन प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक की जाएगी। इसके बाद होली के पश्चात ही अब काम शुरू किया जा सकता है।

Loading...