होल्डिंग टैक्स जमा करने वाले 32 हजार लोगों को पहले दिया जायेगा डस्टबिन

प्रियांशु आनंद/पुर्णिया

पुर्णिया/बिहार: होल्डिंग टैक्स जमा करने वालों को पहले उपलब्ध डस्टबिन उपलब्ध कराए जाएंगे। शहर में रहने वाले परिवारों को सूखा और गीला कूड़ा अलग अलग कूड़ेदान में रखना अनिवार्य होगा।

नगर निगम द्वारा 35 हजार परिवारों के लिए 70 हजार कूड़ेदान मंगाने की योजना है। पूरी उम्मीद है कि अगले माह से कूड़ेदान का वितरण शुरू कर दिया जाएगा। इसके लिए नगर निगम क्षेत्र के सभी वार्डों में 35 हजार लोगों का चयन किया जाएगा।

इस संबंध में नगर निगम की मेयर विभा कुमारी ने बताया कि लोगों को गीला कचरा हरे रंग के कूड़ेदान में रखना होगा और सूखे कचरे के लिए नीले रंग का कूड़ेदान होगा। नगर निगम क्षेत्र के लोगों को प्राथमिकता के आधार पर कूड़ेदान का वितरण किया जाएगा। हाउस होल्ड टैक्स जमा करने वालों को पहले कूड़ेदान दिया जाएगा। उसके बाद जिन लोगों ने शौचालय निर्माण करा कर उसका इस्तेमाल शुरू कर दिया है, उनके बीच वितरित किया जाएगा।

लोग स्वच्छता को लेकर जागरूक हो सके, इसलिए यह कदम उठाए जा रहे हैं। बता दें कि पूरे शहरी क्षेत्र में कुल 32 हजार लोग होल्डिंग टैक्स के दायरे में हैं और करीब 09 करोड़ रूपए बतौर टैक्स नगर निगम को प्राप्त होता है।

शहर के लोगों के जीवन स्तर को ऊपर उठाने के मकसद से अमृत योजना चलाई जा रही है। जिसमें पार्कों का निर्माण, पेयजल, सीवर व्यवस्था को दुरुस्त करने का काम चल रहा है। अब प्रत्येक परिवार को हरे व नीले कूड़ेदान में कचरा रखना होगा। प्लास्टिक, कांच, पन्नी आदि कचरा नीले कूड़ादान में तो भोजन, सब्जी, फल के छिलके हरे कूड़ेदान में डलवाएं जाएंगे। जिससे लोगों को इनमें अंतर समझ आ सके और लोग खाने पीने की चीजों को बर्बाद न करें। क्योंकि खाने पीने की चीजों में प्लास्टिक, कांच आदि मिल जाता है और फिर पशु इन्हें भी खा लेते हैं। इसलिए इन वस्तुओं से बचाव जरूरी है। इस अभियान में कोई दिक्कत न आए, इसके लिए नगर निगम कुछ परिवारों को कूड़ेदान उपलब्ध कराएगा।

मेयर ने कहा कि लोगों को अभी से ही इस ओर जागरूक करना होगा। इसलिए उपलब्ध स्त्रोत पर ही कूड़े को अलग करने का प्रारंभिक प्रयास किया जा रहा है। क्योंकि अभी सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट की स्थापना नहीं हो पायी है, ऐसे में लोगों को कूड़े के महत्व और इसकी उपयोगिता को समझाना बेहद जरूरी है। ताकि भविष्य में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट की शुरूआत होने पर कोई परेशानी न हो।

Loading...