पूर्णिया बना ‘उड़ता पंजाब’ इन जगहों पर नाबालिग करते हैं सिंथेटिक नशा

प्रियांशु आनंदय/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:  पूर्णिया पूर्व प्रखंड के कई क्षेत्रों में इन दिनों सिंथेटिक नशा का प्रचलन बढ़ता जा रहा है। यह सिंथेटिक नशा है डेंड्राईट, सनफिक्स और व्हाईटनर। जिसका सदुपयोग तो किसी कागज को चिपकने और व्हाईटनर का उपयोग कलम से भूलवश लिखी गलतियों को मिटाने के काम में होता है। पर पिछड़े वर्ग के बच्चे जिसकी उम्र तकरीबन 12 से 16 वर्ष होगी। इसका दुरूपयोग करते हुए इसका सेवन नशा के रुप में करते हैं। बच्चे इसका सेवन मां-बाप से छिपकर खेत खलिहानों, बाग बगीचों, खाली पड़े मैदानों में करते हैं। जिससे अभिभावक अंजान रहते हैं। और किन्हीं से पता जब चलता है तो उनके पांवों की जमिन हीं खिसक जाती है।

कैसे बच्चे करते हैं इसका सेवन
सर्वप्रथम बच्चे बाज़ार से उपरोक्त्त तीनों उत्पादों में से एक को खरीदते हैं। उसके बाद कैरी पॉलीथिन दुकानदार से लेते हैं और अपने सेफ जोन में पहुंच जाते हैं। इसके बाद उस उत्पाद को पॉलीथिन में उड़ेल देते हैं। उसके बाद अपना मुंह उसमें डाल देते हैं फिर सांस लेते हैं जिससे वह सिंथेटिक उत्पाद उसके मस्तिश्क में पहुंच जाता है और वह कुछ देर के लिए बेसुध हो जाता है। इसमें वे आनंद की अनुभूति महसूस करते हैं। अपने दोस्तों के बहकावे में आकर ये नाबालिग बच्चे पहले तो एक बार फिर बार बार सेवन करते इसके आदी हो जाते हैं।

कहां-कहां होता है ये नशापान
-पूर्णिया पूर्व प्रखंड के पश्चिम-दक्षिण खाली मैदानी भाग
-सदर अस्पताल परिसर के उत्तर वाला खाली भाग
-अनचित साह उच्च विद्यालय के पूर्वी भाग
-बेलौरी शीतला मन्दिर परिसर के रेलवे लाइन के आस-पास
-आगाटोल नहर के समीप
-रानीपतरा स्टेशन के आस-पास

इन उत्पादों को जब बच्चे दुकान में खरीदने के लिए जाते तो दुकानदार उन्हें उत्पाद की मूल्य से अधिक वसूलते हैं और यही मुनाफाखोरी के कारण ये दुकानदार घातक उत्पाद छोटे-छोटे बच्चों को बेचने से गुरेज नहीं करते। जिस कारण यह फल-फूल रहा है। आगाटोला निवासी विक्रम कुमार बताते हैं कि मेरा बड़ा लड़का अपने साथियों से सनफिक्स से नशा करना सीख लिया है और लाख मना के बाद भी छुपकर नशा करता है। वहीं आनंदनगर निवासी रितेश कुमार व मनीष कहते हैं कि यह सिंथेटिक नशा करने वालों का जमावड़ा पूर्णिया पूर्व प्रखंड मुख्यालय में लगा रहता है। उन्होंने बताया कि कुछ साल पहले सदर थाना पुलिस यहां से दो बच्चों को नशा करते गिरफ्तार करके ले गई थी।

Loading...