पूर्णिया के केनपुर की ये सड़क सीधा मृत्युलोग जाती है, बच गए तो आप किस्मतवाले हैं

पूर्णिया के केनपुर की ये सड़क सीधा मृत्युलोग जाती है, बच गए तो आप किस्मतवाले हैं

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार : केनगर प्रखंड क्षेत्र के झुन्नी इस्तबरार पंचायत के टिकटिकीपाड़ा जाने वाली सड़क की स्थिति काफी दयनीय है। यह सड़क बेगमपुर, बिन टोला, शेरशाह आबादी टोला को जोड़ती है। इस सड़क से प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में अामजन व वाहन चालक आवागमन करते हैं। सड़क से होकर साइकिल, ट्रैक्टर, मैजिक, ऑटो, बस व ट्रकों का आना जाना लगा रहता है और इस सड़क के दोनों किनारे लगभग दस हजार की आबादी रहती है। इसके बाद भी आजतक न तो इस सड़क का निर्माण कराया गया और न ही पुल को ही दुरूस्त कराया गया है।

जर्जर सड़क की वजह से ग्रामीणों व राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। बता दें कि इस सड़क पर तीन पुल का निर्माण लगभग दस साल पहले किया गया था। गत वर्ष आई बाढ़ में जहां सड़क जर्जर हो गई है वहीं पुल के पास बने एप्रोच पथ के बह जाने के कारण स्थिति बेहद खराब है। रात्रि प्रहर यदि किसी वाहन चालक को पुल की स्थिति का ज्ञान न हो तो बेशक उसकी जान तक जा सकती है। इस मार्ग पर बने पुल में से एक पुल तो पूरी तरह से ध्वस्त हो चुके हैं।

ग्रामीण मो सफीक आलम, मो मजहरूल, बीबी जसनूरा खातून और मो खुर्शीद ने बताया कि बाढ़ के समय कुछ पदाधिकारी आए थे और सड़क एवं पुल का निरीक्षण कर चले गए। लेकिन दोबारा किसी पदाधिकारी ने झांका तक नहीं। जबकि इस सड़क की जानकारी यहां के मुखिया, पंचायत समिति सदस्य समेत तमाम जनप्रतिनिधियों को है लेकिन ग्रामीणों को आश्वासन के सिवाय कुछ भी नहीं मिल रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि बाढ़ से पूर्व इस सड़क पर मिट्‌टी भराई का कार्य हुआ था लेकिन बाढ़ के पानी में मिट्‌टी बह गई। फिलहाल सड़क की स्थिति कुछ ऐसी है कि वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना भी दूभर हो चला है।

जब इस मामले को लेकर झुन्नी इस्तबरार की मुखिया फौजिया बेगम से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर पूरी जानकारी केनगर बीडीओ राकेश कुमार ठाकुर को दी गई है। मुखिया के पास ऐसी कोई योजना नहीं है कि इतनी बड़ी सड़क और पुल को बनवाया जा सके। फिलहाल हमलोगों के द्वारा बीडीओ को एक एस्टीमेट दिया गया है। बीडीओ द्वारा मनरेगा योजना के तहत मिट्टी भराई कराने का फिलहाल आश्वासन दिया गया है और जल्द से जल्द मिट्टी भराई का कार्य किया जाएगा।

Loading...