पूर्णिया:सात दिन पूर्व हुआ था युवक गायब,अबतक कोई सुराग नहीं

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार: मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मंझेली पुल के समीप फर्नीचर दुकान चला रहे व्यवसायी मो निजाम का घर से गायब होने के सात दिन बाद भी कोई सुराख नहीं मिल पाया है। समय बीतता जा रहा है परिजनों की चिंता बढ़ती जा रही है कि कहीं कोई अनहोनी न हो जाए।

मालूम हो कि 28 जून की रात्रि से ही मंझेली पुल के समीप अपने घर से फर्नीचर व्यवसायी मो निजाम रात्रि लगभग 9 बजे अपने भाई महबूब को लकड़ी मिल में खाना देकर वापस घर आया और घर में वापस सो गया। जब सुबह परिजनों ने उन्हें बिछावन पर नहीं पाया तो खोजबीन शुरू कर दी। लेकिन लगातार दो दिनाें तक खोजबीन के बाद भी कहीं उनका पता नहीं लगा और न तो उसके मोबाईल पर संपर्क हो सका।

जिसके बाद 30 जून को गायब युवक के पिता मो जमाल ने मुफस्सिल थाना में अपने पुत्र के गायब होने का आवेदन दिया। फिर शक के आधार पर पुनः एक जुलाई को नामजद के साथ आवेदन दिया। जिसमें उक्त युवक की पूर्व पत्नी और उनके अन्य सहयोगी का नाम दिया गया है। लेकिन नाम दर्शाने के बाद भी पुलिस अबतक गायब युवक की बरामदगी के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाई है।
जिससे अबतक युवक की बरामदगी नहीं हो पाई है।

इस संबंध में गायब युवक के पिता मो जमाल ने बताया कि मेरा पुत्र मो निजाम 28 जून से ही लापता है। जिसका अबतक कोई भी सुराग नहीं मिला है। अबतक पांच बार थाना दौड़ने के बाद 4 जुलाई को पुलिस मेरे घर पर पहुचकर पूछजांच की है। मुझे शक है कि मेरे पुत्र की तलाकशुदा पत्नी और उनके सहयोगियों के द्वारा ही उनका अपहरण किया गया है। क्योंकि उनके अलावा हमलोगों का कोई भी दुश्मन नहीं है। मेरे पुत्र की बरामदगी नहीं होने से हमलोग काफी भयभीत हैं। कहीं उनके साथ उनलोगों ने कोई दूसरी घटना तो नहीं कर दी। इस बात को लेकर घर के सभी सदस्य काफी सदमे में है और पुलिस की सुस्ती के कारण हमलोगों का भय दुगुना होता जा रहा है।

इस संबंध में मुफस्सिल थानाध्यक्ष प्रशांत भारद्वाज ने बताया कि गायब युवक के पिता ने आवेदन दिया है। अनुसंधान किया जा रहा है।

(Visited 16 times, 1 visits today)
loading...