पुर्णिया: खौफ के साए में शहर, सरेआम फायरिंग कर दहशत फैला रहे हैं अपराधी

प्रियांशु आनंद/पुर्णिया
पुर्णिया/बिहार:  पुर्णिया में क्राइम का ग्राफ बढ़ रहा है। आज मधुबनी टीओपी थाना क्षेत्र के कौशिक नगर मोहल्ले में चार अपराधियों द्वारा दहशत फैलाने के लिए तीन राउंड गोली चलाई गई। गोली लगने से दो लोग घायल हो गए हैं। घटना के संबंध में पीड़ित तीर्थानंद ठाकुर ने बताया कि दो दिन पहले ही कौशिक नगर स्थित उनके आवास के पास चार अपराधियों ने हवा में गोली चलाई गई थी और सब को कट्टा दिखाकर होश में रहने के लिए कह रहा था।
जिसके बाद उनके बड़े भाई ने सभी अपराधियों का विरोध किया था और कहा था कि वे लोग गांव से आकर यहां बाल बच्चों को पढ़ाने के लिए रहते हैं। ऐसे में इस तरह से मोहल्ले में दहशत फैलना ठीक नहीं है। लेकिन मोहल्ले के लोगों ने मामला शांत करा दिया था। आरोप है कि मंगलवार की सुबह उनके घर पर कौशिक नगर डीएवी स्कूल के पास विक्रम कुमार सिंह, राहुल कुमार सिन्हा, मनीष  कुमार झा, मोनू चौधरी आया और हंगामा करने लगा। जब हंगामा काफी बढ़ गया। तो वे भी घटनास्थल पर आए और अपराधियों ने तीन राउंड हवाई गोली चलाई। इसी बीच एक अपराधी ने एक बांस लेकर उनके भाई चतुरानंद ठाकुर के सिर पर प्रहार कर दिया और दूसरे अपराधी ने कट्‌टा के बट से उसकी आंख में प्रहार कर दिया। जब मोहल्ले वालों की भीड़ जुटने लगी तो अपराधी वहां से भाग निकले।
स्थानीय लोगों के द्वारा मधुबनी टीओपी थानाध्यक्ष को सूचना दी गई। उन्होंने बताया कि मौके पर से गोली का एक खोखा और एक मोबाइल पुलिस को सुपुर्द किया गया है। हालांकि थाना में दोनों तरफ से प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जिसमें पहली प्राथमिकी तीर्थानंद ठाकुर ने चार लोगों पर मारपीट करने व दहशत फैलाने का आरोप लगाते हुए करवाई है । वहीं दूसरी ओर मधुमाला देवी ने तीर्थानंद ठाकुर समेत अन्य आठ लोगों पर मामला दर्ज कराया है कि सुनियोजित तरीके से उनलोगों के द्वारा मारपीट की गई।
क्या कहते है थाना अध्यक्ष
मधुबनी टीओपी थानाध्यक्ष रवि कुमार ने बताया कि आपसी विवाद में लड़ाई हुई है। गोली चलने की बात की पुष्टि फिलहाल नहीं हुई है। दोनों तरफ से मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। वहीं मौके पर से विक्रम कुमार सिंह को हिरासत में लेकर जेल भेजा जा रहा है।
घटना के बाद डीएवी चौक स्थित कौशिक नगर के दर्जनों की संख्या में मोहल्ला वासी मधुबनी टीओपी पहुंचकर हंगामा करने लगे कि  दो दिन पूर्व ही कौशिक नगर में अपराधियों के द्वारा हवाई फायरिंग की गई थी और लोग चोरी छिपे मधुबनी टीओपी थानाध्यक्ष को इसकी सूचना दी थी लेकिन आरोप है कि पुलिस मौके पर पहुंचकर किसी भी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की।
यदि उसी वक्त पुलिस दबिश बढ़ाकर कार्रवाई करती तो बेशक नतीजा कुछ अलग होता। आम आदमी पार्टी के जिला सचिव कुमोद कुमार झा ने बताया कि पुलिस के टालमटोल रवैये का नतीजा है कि आज गोली चली है। जबकि दो दिन पूर्व ही शाम के वक्त अपराधियों के द्वारा कई राउंड फायरिंग की गई थी।  उन्होंने कहा कि पुलिस सिर्फ गई और औपचारिकता पूरी कर लौट आई। जबकि मोहल्ले के कई लोगों ने उनसे अज्ञात लोगों पर ही मामला दर्ज करने का आग्रह किया था।
क्या कहते है थाना अध्यक्ष
मधुबनी टीओपी थानाध्यक्ष ने बताया कि दो दिन पूर्व गोली चलने की सूचना कौशिक नगर से आई थी।  लेकिन कौशिकनगर के किसी ने भी मामला दर्ज नहीं करवाई और कोई अपराधी का नाम और गवाह बनने के लिए तैयार नहीं हुए। इस कारण मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई।
Loading...