पूर्णिया:चंपानगर के कोहवारा पंचायत भवन में बेकार पड़ा है चापाकल

निक्कू झा/चंपानगर

पूर्णिया/बिहार: मुख्यमंत्री सात योजना के तहत शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिए पंचायत के क्षेत्रों में घर घर गली मोहल्ले नलकूप स्थापित किए जा रहे हैं। वहीं विकास की नींव रखने वाली कोहवारा पंचायत सरकार भवन  खुद एक चापाकल के लिए तरस रहा है।

कोहवारा पंचायत क्षेत्र की आबादी लगभग 30 हजार बताई जा रही है।हजारों लोग पंचायत आकर समीक्षा बाद चापाकल की खोज करते हैं। लोगों ने बताया कि विगत कई माह से चापाकल खराब पड़ा है लोग पानी के लिए इधर उधर भटकते हैं। विकास की नींव रखने वाली पंचायत एक अदद चापाकल के लिए मोहताज है।

चापाकल खराब होने के बाद एक भी पंचायत प्रतिनिधि इस ओर ज्ञान केंद्रित नहीं किया है। जनप्रतिनिधियों की इस उदासीन रवैये से पंचायत क्षेत्रवासी क्षुब्ध एवं हैरान है। क्षेत्र के लोगों ने केनगर प्रखंड विकास पदाधिकारी से शीघ्र चापाकल के जीर्णोद्धार की मांग की है।

(Visited 42 times, 1 visits today)
loading...