पूर्णिया: नगर निगम की पहले की योजना अधूरी, इसबार ऐतिहासिक बजट का दावा

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:  बजट को लेकर नगर निगम पूर्णिया की बोर्ड बैठक जो कि 28 फरवरी को होने वाली थी किसी कारणवश अब 09 मार्च को होगी। हालांकि बजट से पूर्व सभी 46 वार्डों से आमसभा के बाद पार्षदों ने अपनी मांगें निगम कार्यालय में जमा करा दिया है। जिसमें कुछ पार्षदों ने कोई विकास नहीं होने की बात कही तो किसी ने निगम की आय बढ़ाने पर जोर दिया। इसी क्रम में बता दें कि वार्ड नंबर 22 की पार्षद सरिता राय ने बताया कि नगर निगम द्वारा प्रतिवर्ष भारी भरकम बजट तो पेश किया जाता है लेकिन आय के श्रोत बढ़ाए जाने पर कोई विचार नहीं किया जाता है। जिससे निगम की आय यथावत बनी हुई है।

उन्होंने कहा कि अपने प्रस्ताव में उन्होंने स्पष्ट रूप से उल्लेखित किया है कि किस तरह निगम अपनी आय बढ़ा सकता है। हालांकि इससे पूर्व भी उन्होंने कई बार अपने प्रस्तावों में इस बात का जिक्र किया लेकिन अमल में नहीं लाया गया। वहीं दूसरी ओर डिप्टी मेयर संतोष यादव कहते हैं कि अबकी बार बजट ऐतिहासिक होगा। बजट के बारे पूछे जाने पर उन्होंने स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कहा लेकिन इतना जरूर बताया कि इस बजट में समाज के हर तबके का ख्याल रखा गया है। जिसमें खासकर महिला और महादलितों के उत्थान व विकास का भरपूर ख्याल रखा गया है। उन्होंने कहा कि पूर्व के बजट में भी जिन योजनाओं का जिक्र किया गया है उस पर विचार किया गया है और शहर को विकास की रेस में शामिल करने की सारी कोशिशें की जाएंगी।
आवास और शौचालय को मिल सकता है तवज्जो 
इस बजट में आवास और शौचालय निर्माण को खासा तवज्जो मिलने की संभावना है। क्योंकि स्वच्छ भारत मिशन को लेकर मेयर विभा कुमारी विशेष सक्रियता दिखा चुकी हैं। खासकर शहर में साफ सफाई को लेकर तो उन्होंने दोनों एनजीओ को अल्टीमेटम तक दिया है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि आवास निर्माण के अलावे पूरे शहर को खुले में शौच से मुक्त कराने की सारी कवायदें की जाएंगी। वहीं दूसरी ओर नगर निगम में शामिल नए वार्डों में सड़क निर्माण को गति मिल सकती है। दरअसल नए शामिल वार्डों में अबतक सड़क व नाला निर्माण को गति नहीं दी गई है। ऐसे में इस बजट में सड़क व नाला निर्माण को लेकर विशेष ध्यान रखे जाने के कयास लगाए जा रहे हैं। हालांकि इस मद में कितनी राशि तय की जाएगी अबतक खुलासा नहीं हो सका है लेकिन विश्वस्त सूत्रों की माने तो सड़क, नाला व शौचालय निर्माण को लेकर पूरी ताकत झोंकी जा रही है।

नए पार्क व मार्केटिंग कांप्लेक्स से बढ़ सकती है निगम की आय
कुछ पार्षदों के द्वारा जमा किए गए आमसभा की रिपोर्ट में निगम की आय बढ़ाने पर जहां जोर दिया गया है। वहीं दूसरी ओर शहर में नए नए पार्क व खाली पड़ी जमीन पर नए मार्केट बनाकर आय के श्रोत बढ़ाए जाने के सुझाव दिए गए हैं। जिस पर आगामी बोर्ड बैठक में विशेष चर्चा होने की संभावना जताई जा रही है। बता दें कि इन सुझावों के माध्यम से निगम की आय बढ़ेगी और इसका सीधा लाभ आगामी दिनों देखने को मिल सकता है।

Loading...