BSNL शुरु करने जा रहा है V-PCO, फोन भी करें चेहरा भी देखें

BSNL शुरु करने जा रहा है V-PCO, फोन भी करें चेहरा भी देखें

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:  यदि सब कुछ ठीकठाक रहा तो वो दिन दूर नहीं जब आम तबका भी थ्री-जी और फोर जी सरीखे सेवाओं का लुत्फ उठाएगा। मसलन अब आप भी भारत संचार निगम लिमिटेड के पीसीओ पर जाकर वीडियो कॉल कर सकते हैं और अपने चहेतों के चेहरे देख सकते हैं। यह बिल्कुल ऐसा होगा जैसे दो व्यक्ति आमने सामने बात कर रहे हों। गत वर्ष कोसी और सीमांचल के दौरे पर आए निगम के मुख्य महाप्रबंधक ने कहा था कि बिहार परिमंडल के सभी जिलों में इस सुविधा को बहाल किए जाने की योजना है और फिलहाल सूबे के बीएसएनएल पीसीओ की लिस्ट मंगाई जा रही है।

पीसीओ वीडियो कॉल के लिए पीसीओ मालिक को समुचित स्थान व ब्राडबैंड की सुविधा से लैस होना पड़ेगा। ऐसे में उन्हें आसानी से इस सेवा का लाभ मिल सकता है। मिली जानकारी अनुसार इन वीडियो पीसीओ से तीन रुपए प्रति 45 सेकेंड की दर से कॉल किए जा सकेंगे। यह दर लोकल और एसटीडी के लिए एक समान होगी। फिलहाल यह सेवा उत्तरी व पश्चिमी भारत के ज्यादातर राज्यों में धड़ल्ले से दी जा रही हैं और वी-पीसीओ से आईएसडी कॉल नहीं होंगे।

सूत्रों की मानें तो बीएसएनएल अपने सभी पीसीओ धारकों को वीडियो पीसीओ में बदलने का प्रयास करेगा। वी-पीसीओ खोलने के इच्छुक व्यक्ति के पास जगह और ब्राडबैंड कनेक्शन होना चाहिए। बीएसएनएल उन्हें केबिन, टेलीफोन उपकरण और बैनर उपलब्ध कराएगा। वी-पीसीओ धारक को कंपनी की तरफ से पहले तीन माह तक 3000 रुपए इंश्योर्ड  अमाउंट दिया जाएगा। बिहार परिमंडल में आईपीटीवी के बाद जो सबसे बेहतर व किफायती सेवा है उसमें वी-पीसीओ का नाम लिस्ट में सबसे उपर माना जा रहा है। इस लिहाज से वी-पीसीओ को आमजनों से जुड़ी निगम की सेवा बताई जा रही है। बता दें कि वी-पीसीओ के क्षेत्र में आ जाने से गरीब तबका भी दूर प्रदेश में रह रहे अपने परिजनों से न सिर्फ बातें करेगा बल्कि उनका चेहरा भी थ्री-जी व फोर जी स्टाइल में देख सकता है।

व्यक्तिगत कनेक्शन भी  
वीडियो कॉल के व्यक्तिगत कनेक्शन भी उपलब्ध हैं। फिलहाल बीएसएनएल ने इसके लिए आवेदन प्राप्त करने की प्रक्रिया पर अमल करना प्रारंभ कर दिया है। बता दें कि जिन क्षेत्रों में यह सेवाएं दी जा रही हैं उन क्षेत्रों में इनका उपयोग औद्योगिक संस्थान बैठक और सेमिनार के लिए कर रहे हैं। इसके लिए ब्राडबैंड कनेक्शन के साथ कंपनी का उपकरण लेना होता है। इसकी न्यूनतम कीमत 14,500 रुपए है। आउटगोइंग वीडियो कॉल की दर 02 रुपए 50 पैसे प्रति मिनट लागू की गई है। वी-पीसीओ से निगम को आने वाले दिनों कई फायदे मिलने के आसार हैं। मसलन एक ही कनेक्शन पर लैंडलाइन, ब्राडबैंड व वी-पीसीओ जैसी हाईटेक सुविधा।

‘दिशा निर्देश मिलते ही शुरू होगा काम’ 
कटिहार एसएसए के डीजीएम अनिल कुमार ने कहा  वी-पीसीओ लगाए जाने की दिशा में आवश्यक दिशा निर्देश मिलते ही इसे अमल में लाया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्रों में केआईओएसके यानी ‘कियोस्क इंटरनेट’ सेवा दी जा रही है। इसके तहत एसएसए अंतर्गत कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में कियोस्क इंटरनेट पीसीओ की सेवाएं दी जा रही हैं और जल्द ही इसकी संख्या बढायी जाएगी।

Loading...