पूर्णिया छात्र संघ चुनाव बस एक दिन बाकी मतदान की तैयारी पूरी, जानें सारे नियम

नीरज झा:पूर्णिया
पूर्णिया/बिहार:  नामांकन और चुनाव प्रचार के बाद अब छात्र संघ चुनाव में मतदान को केवल एक  दिन शेष रह गये हैं। ऐसे में चुनावी प्रत्याशियों की धड़कने बढ़ गयी हैं। वहीं महाविद्यालय ने भी पहली बार हो रहे छात्र संघ चुनाव को लेकर तैयारियां पूरी कर ली है। इसी क्रम में शनिवार को पूर्णिया कॉलेज में मतदान पदाधिकारियों का प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया था। जिसमें अधिकारियों को चुनाव संबंधी बारिकियां बताया गयी। बैठक की अध्यक्षता महाविद्यालय प्राचार्य डा संजीव कुमार कर रहे थे।
इस संबंध में जानकारी देते हुए प्राचार्य डा संजीव कुमार ने बताया कि मतदान के लिए कॉलेज में दस पीठासीन अधिकारियों को नियुक्त किया गया है। उन्होंने बताया कि कॉलेज के शिक्षकों को पीठासीन अधिकारी बनाया गया है। जिसमें उनकी मदद के लिए कॉलेज के तृतीय वर्गीय कर्मी मौजूद रहेंगे। प्राचार्य डा श्री कुमार ने बताया कि चुनाव में शिक्षक और तृतीय वर्गीय कर्मियों के अलावा चतुर्थ वर्गीय कर्मियों की सहायता भी ली जाएगी। उन्हें सहायक पदाधिकारी के रूप में प्रतिनियुक्त किया जाएगा। प्राचार्य श्री कुमार ने बताया कि मतदान के लिए जिला प्रशान की ओर से 20 मतदान पेटी कॉलेज को उपलब्ध कराए गए हैं। जिसे खोलने और बंद करने का प्रशिक्षण अधिकारियों को रविवार को होने वाली बैठक में दी जाएगी।
दस मतदान केंद्रों पर नौ हजार छात्र करेंगे मतदान
पूर्णिया कॉलेज में छात्र संघ चुनाव के लिए दस मतदान केंद्रों का निर्माण किया गया है। जहां महाविद्यालय में अध्ययनरत करीब 9541 छात्र अपने पसंदीदा उम्मीदवार के पक्ष में मतदान करेंगे। मतदान के लिए छात्र कॉलेज का परिचय पत्र, पैन कार्ड, फोटो युक्त बैंक पासबुक, बीते वर्ष की परीक्षा में प्रदान किया गया प्रवेश पत्र में से किसी एक को वोटर कार्ड के रूप में स्वीकृति दी जाएगी।
तीन टेबुल पर 12 कर्मी करेंगे वोटों की गिनती
महाविद्यालय प्राचार्य डा संजीव कुमार ने बताया कि कॉलेज में मतगणना के लिए तीन टेबुलों की व्यवस्था की जाएगी। जिसपर 12 कर्मी मतगणना का कार्य करेंगे। तीनों टेबुल पर दो-दो शिक्षक मतगणना करेंगे। इसमें उनकी सहायाता के लिए दो तृतीय तथा दो चतुर्थ वर्गीय कर्मी उनका सहयोग करेगा।
महिला कॉलेज में पुरूष पत्रकार का प्रवेश निषेध
पूर्णिया शहर के महिला कॉलेज में चुनावी कवरेज के लिए पुरुषों को इजाजत नहीं होगी। इसके लिए कॉलेज में महिला रिपोर्टर ही अधिकृत होंगी। दरअसल, शनिवार को महिला कॉलेज पहुंचे पत्रकारों को कॉलेज में चुनावी रिपोर्टिंग करने नहीं दिया गया। वहां मौजूद शिक्षकों और कर्मियों ने पत्रकारों को लड़कियों की सुरक्षा का हवाला देते हुए रिपोर्टिंग से रोक दिया। इस बाबत जब प्रोवीसी  डा. फारुख अली से बात की गयी तो उन्होंने कहा कि महिला कॉलेज में केवल महिला पत्रकार ही रिपोर्टिंग के लिए अधिकृत होंगी और उन्हें ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी।
Loading...