पूर्णिया: 14 जनवरी को ही हो गई थी भोलू की हत्या- पुलिस, पढ़िये Inside Story

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:  मरंगा थाना क्षेत्र के  शांति नगर से गायब हुए भोलू मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामले का पुलिस ने उदभेदन भी कर लिया है।  इस सबन्ध में मरंगा थाना अध्यक्ष देवराज ने बताया कि भोलू के परिजन के द्वारा 18 जनवरी को आवेदन दिया था कि उनके पुत्र भोलू घर से गायब हो गया है।  चूंकि भोलू अक्सर घर से गायब रहता था इस कारण उनके परिजन ने गायब  होने  चार दिन बाद भोलू के गायब होने का आवेदन दिया था। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए भोलू के दोस्तो से पूछ ताछ करना शुरू किया । इस मामले में भोलू के दोस्तो ने मरंगा थाना की पुलिस ने किशनगज एवं अन्य जगहों से पकड़ लाया था।  जिनसे पूछताछ के बाद पुलिस पीआर बांड पर छोड़ दिया था।
दोस्तो ने भटकाया था जांच को 
पुलिस जब भोलू मामले में जुटी तो उनके दोस्तों ने पुलिस को जांच से भटकाने के लिए कहा था कि भोलू के पास काफी कर्ज था इसी डर से भोलू गायब हो गया है। जबकि उनके परिजन इस बात को मानने के लिए कतई तैयार नहीं था की भोलू के पास कोई कर्ज भी था । पुलिस उनके दोस्तो की बात नही मानी और जांच जारी रखा। पुलिसिया जांच में कई तरह के खुलासे हुए जिनमे यह बात सामने आई थी। भोलू के मोबाइल लोकेशन के पास उनके आधे दर्जन से अधिक दोस्तो का मोबाइल नम्बर सामने आया ।

पुलिस को जांच में इस बात से मदद मिला कि भोलू ने 14 जनवरी की रात्री अपने दोस्तों के साथ पार्टी मनायी थी। लेकिन इस बात को कोई भी दोस्त मानने को तैयार नही हो रहा था।  इनमे भोलू के एक दोस्त का मोबाइल नम्बर का लोकेशन  तारापीठ का रहा था चूंकि उनके उस दोस्त का आपराधिक छवि रहा था और वह जब भी किसी तरह का कोई क्राइम करता था तो तारापीठ जरूर जाता था।

पुलिस ने जाल बिछाया और उनके दोस्त को पकड़ कर पूछताछ किया उनके दोस्त ने बताया कि भोलू के साथ उनके आठ दोस्तो ने नेवालाल चौक स्थित एक बैंक कर्मी के घर 14 जनवरी की रात्री पार्टी किया था। चूंकि बैंक  कर्मी  बुश बाहर नोकरी करता था और उनके घर की रखवाली पानी मण्डल करता था। पानी मण्डल ने ही सभी दोस्तों को घर पर बुलाया था।

पूछताछ के क्रम में पानी मण्डल ने बताया कि पार्टी में भोलू ,छोटू, अमन सिंह और गोलू  के अलावा अन्य चार चार दोस्त मौजूद थे।  पार्टी के दौरान ही भोलू से बकवास अमन सिंह का हो गया और अमन सिंह ने भोलू को आँख में ही गोली मार दिया मौके पर ही भोलू की मौत हो गई। फिर एक कार से 14 जनवरी की रात्री भोलू के शव को कुर्सेला पूल पर फेंक दिया। पुलिस ने छोटू पानी मण्डल और गोलू को जेल भेज दिया है और अन्य की गिरफ्तारी के लिए खोजबीन कर रही है।

Loading...