पूर्णिया:बकरीद को लेकर कम से कम 4 हजार तो अधिक से अधिक 19 हजार 500 में बिका बकरा 

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया
पूर्णिया/बिहार:डगरुआ प्रखंड मुख्यालय के पास इंदिरा गांधी मेमोरियल उच्च विद्यालय के समीप लगने वाले साप्ताहिक मवेशी हाट में मवेशी की खरीदारी करने वालों की भीड़ लगातार बढ़ती जा रही है। दूर दराज से लोग यहां अपने मवेशियों के साथ पहुंच रहे हैं और खरीदार को देखकर बोली लगा रहे हैं। इस गर्मी में भी लोग पहुंच रहे हैं और पैकार से मोलभाव कर बकरे की खरीदारी करने में लगे हैं।

बता दें कि डगरुआ प्रखंड में त्योहार के अवसर पर दो जगहों पर मसलन प्रखंड मुख्यालय के पास व कटारे हाट में मवेशियों का जमघट लगता है और बड़ी संख्या में लोग पहुंचते हैं। बकरीद के मौके पर हरेक साल तीन सप्ताह पूर्व से ही तैयारी शुरू हो जाती है। इन दोनों हाट में कटिहार के कदवा के अलावा अमौर, बैसा, जलालगढ़, डगरूआ के 18 पंचायतों के अलावा बगल के राज्य बंगाल से भी लोग मवेशियों की खरीद बिक्री के लिए पहुंच रहे हैं। जिससे यहां काफी चहल पहल देखी जा रही है।

हालांकि इतनी बड़ी संख्या में पहुंचने वाले लोगों के लिए न तो पेयजल की समुचित व्यवस्था है और न ही शौचालय की ही। ऐसे में लोगों को पेयजल के लिए जहां बिलबिलाना पड़ता है वहीं दूसरी ओर खुले में ही शौच निवृत्ति की मजबूरी बनी है। हाट मालिक इसराइल आजाद कहते हैं कि पिछले वर्ष की ही तरह इस बार भी खरीदारों की भीड़ लगातार बढ़ रही है। तपती धूप के बावजूद कोई छाता लेकर तो कोई सिर पर गमछा रखकर तो कोई पेड़ की छांव में खड़ा होकर मोलभाव करते दिख रहे हैं।

इस बार हाट में 30 हजार रुपए तक एक जोड़ा खस्सी बिका। कम से कम 4000 रूपए से लेकर अधिक से अधिक 19 हजार 500 रूपए तक बकरे की बोली लगाई गई। इस खरीदारी से इलाके के लोगों को आर्थिक उपार्जन का बेहतर मौका भी मिल जाता है और वे सालभर इस पर्व का इंतजार करते हैं।

Loading...