पूर्णिया:एटीएम मशीन से निकासी की मदद के बहाने उड़ाए 20 हजार रूपए 

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार: पूर्णिया के बैसा प्रखंड अंतर्गत रौटा बाजार के शहंशाह चौक स्थित एसबीआई एटीएम में बुजुर्ग के एटीएम से निकासी में मदद के बहाने एक व्यक्ति ने बीस हजार रूपए की चपत लगा दी।

अमौर प्रखंड क्षेत्र व थाना के डहुआबाड़ी ग्रामवासी 50 वर्षीय बुजुर्ग तहजीब आलम पिछले 3 जुलाई को रौटा बाजार के एसबीआई एटीएम से सुबह करीब 10:30 बजे रुपए की निकासी करने आए हुए थे। बुजुर्ग तहजीब जानकारी के अभाव में एक अज्ञात व्यक्ति से मदद मांगी। वही अज्ञात व्यक्ति ने मदद के लिए निकासी के बहाने कार्ड की सारी जानकारी ले ली तथा उनको बताया कि रुपया नहीं है इस पर तहजीब आलम वहां से चले गए। जब दूसरे दिन रुपए की जानकारी लेने एटीएम से मिनी स्टेटमेंट निकाला तो उनके होश उड़ गए।

देखा तो पता चला कि उनके खाते से 20 हजार रूपए की निकासी कर ली गई है। पीड़ित तहजीब आलम ने रौटा पेट्रोल पंप के सामने भारतीय स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक के पास पहुंचे तथा घटना की जानकारी देते हुए उस खाता का विवरण निकाला। जिसमें उनके रुपए को हस्तांतरित किया गया था। प्रबंधक ने उस अज्ञात व्यक्ति का विवरण निकाल कर दिया तथा उस अज्ञात व्यक्ति के पास बुजुर्ग पहुंचे तो पता चला कि ये वो व्यक्ति नहीं है। फिर इसकी सूचना शाखा प्रबंधक को दी तो शाखा प्रबंधक ने कुछ दिनों का समय मांगा।

3 तारीख को घटना के बाद आज दस दिन बीत जाने पर भी प्रबंधक द्वारा कोई सूचना नहीं दी जा रही है तथा टालमटोल कर रहे हैं। वही पीड़ित का कहना है कि अगर शाखा प्रबंधक द्वारा कार्रवाई नहीं की गई तो वे इसकी शिकायत प्रशासनिक पदाधिकारी से करेंगे। पीड़ित ने बताया कि रौटा के शहंशाह चौक में एसबीआई एटीएम पर न तो कोई सिक्योरिटी गार्ड है और न ही सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था की गई है। एटीएम का मुख्य दरवाजा भी पिछले कई दिनों से टूटा पड़ा है और सुरक्षा के नाम पर कुछ भी नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि इस एटीएम में सुरक्षा व्यवस्था रहती तो बेशक उनके साथ यह घटना घटित नहीं होती।

Loading...

Leave a Reply