पूर्णिया: 57 स्कूलों में गेस्ट टीचर की बंपर बहाली, जानिये कैसे करें आवेदन

नीरज मिश्रा/पुर्णिया
पुर्णिया/बिहार:  जिले के  +2 विद्यालयों में अतिथि शिक्षक को बहाल किया जाएगा। अतिथि शिक्षकों को बहाल करने का अधिकार विद्यालयों को ही मिलेगा। शिक्षकों की कमी  और शिक्षा की गुणवत्ता को लेकर विद्यार्थियों के हित में शिक्षा विभाग ने यह निर्णय लिया है। इसके लिए सभी प्लस टू स्कूलों से रिक्तियां मंगाई गई हैं । विभाग ने सभी स्कूलों से जल्द से जल्द रिक्तियां देने का निर्देश दिया है।
जल्द ही शिक्षकों की कमी वाले उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में ये अतिथि शिक्षक रख लिए जाएंगे। विद्यालयों में रिक्त पदों के आधार पर आरक्षण रोस्टर बनाकर बहाली की जाएगी। डीईओ मिथिलेश प्रसाद ने बताया कि उच्चतर माध्यमिक स्कूलों की शैक्षणिक व्यवस्था में जल्द सुधार होगा। उन्होंने कहा कि योग्य अतिथि शिक्षकों के बहाल हो जाने से स्कूलों की शैक्षणिक माहौल बदलेगी। इससे विद्यालय में अंग्रेजी, विज्ञान सहित अन्य विषयों की गुणवत्तापूर्ण पढ़ाई होगी।
ये हो सकते हैं अतिथि शिक्षक
अतिथि शिक्षक रखे जाने में एमए और एमएससी पास अभ्यर्थियों को पहली वरीयता दी जाएगी। अगर इस कोटा  के उम्मीदवार नहीं मिलते हैं तो फिर स्नातक जो अच्छे से विज्ञान विषयों को पढ़ा सकते हैं उन्हें रखा जा सकता है। इस श्रेणी के शिक्षकों को प्रत्येक दिन के 1000 व महीने में अधिकतम 25000 रुपए दिए जा सकेंगे। स्थापना डीपीओ चंद्रशेखर प्रसाद शर्मा ने बताया कि अतिथि शिक्षकों को रखने का अधिकार विद्यालयों को मिलने जा रहा है। प्रधानाध्यापक और विद्यालय प्रबंध समिति योग्य शिक्षकों की तलाश करेंगे। विद्यालय प्रबंध समिति या प्रधानाध्यापक प्रस्ताव बनाकर शिक्षकों के नाम और ब्योरा  के साथ उनको रखे जाने की अनुशंसा जिला शिक्षा पदाधिकारी से करेंगे। डीईओ की स्वीकृति के बाद विद्यालय अतिथि शिक्षक की सेवा ले पाएंगे।
इन विषयों में बहाल होना है शिक्षक
जिले के 57 प्लस टू विद्यालयों में अतिथि शिक्षक अंग्रेजी, गणित, भौतिकी, रसायनशास्त्र, प्राणी शास्त्र और वनस्पति शास्त्र जैसे छह विषयों के लिये चयनित किये जाएंगे। अभ्यर्थियों में मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से 50 फीसदी अंकों के साथ स्नातकोत्तर और बीएड अथवा माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (पेपर- 2) में उतीर्णों को प्राथमिकता दी जाएगी। वहीं, गणित, भौतिकी एवं रसायन शास्त्र विषयों के लिए योग्य अभ्यर्थियों के लिए योग्यता  एमएससी पास रखी गई है। वहीं बीटेक व एमटेक वाले अभ्यर्थियों  को भी प्राथमिकता दी जाएगी।
Loading...