नाथनगर पर सियासत गर्म: गिरिराज और अश्विनी के चौबे के बिहार आने पर लगे रोक- RJD

नीरज झा/पटना
पटना/बिहार:  पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी एवं  बिहार के  प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाया है। बीजेपी बिहार के उपचुनाव परिणाम में मिली हार को भुनाने के लिए आपसी सद्भाव और  भाईचारा बिगाडने का काम कर रही है। भागलपुर में पुलिस प्रशासन  द्वारा सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है। अगर भागलपुर के नाथनगर झडप में किसी व्यक्ति की मौत हो जाती तो जिम्मेदारी कौन लेता? किसी प्रकार की बड़ी घटना घट जाती तो उस वक्त सब अपनी जान बचाने के लिए पल्ला झाड़ लेते।
‘गिरिराज सिंह और अश्विनी चौबे को बिहार आने से रोका जाना चाहिए। दोनों मंत्री को केन्द्र सरकार अपने पास ही रखे।’ राजद के इस बयान पर जदयू नेता नीरज कुमार ने पलटवार करते हुए कहा कि बिहार में राजद ने 15 साल तक शासन चलाया और सत्ता में  रही तो क्या दंगे नहीं हुए।
उन्होंने आगे कहा दंगाइयों पर क्या-क्या  कार्रवाई की गई है अबतक ,जनता को बता देना चाहिए। नीतीश सरकार कोई भी काम कानून के नियमानुसार ही करती है। कुमार ने सीधे तौर पर कहा कि तेजस्वी को बिहार के लिए विशेष दर्जा का पैकेज नहीं चाहिए,  राजद सुप्रीमो लालू यादव के लिए जेल में विशेष सुविधा चाहिए।
राबड़ी देवी ने सख्त तेवर में कहा कि हम गिरिराज सिंह और अश्विनी चौबे का विरोध करेंगे। पूरा देश जानता है लोग जानते हैं भाजपा दंगा फैलाने वाली  पार्टी है और गिरिराज सिंह ने लोगों को दंगा करने  के लिए उकसाया था। उन्होंने कहा अश्विनी चौबे के बेटे ने भी सरकार के समर्थन में जुलूस निकाला था, बीजेपी में तो बाहुबली लोग हैं।
इस पर जवाब देते हुए जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि सरकार अपना काम बखूबी से  कर रही है। बिना किसी दाबाव के एफआइआर दर्ज  हुआ है। सरकार निष्पक्ष जांच कर रही है । राजद के लोग तो बलात्कारी को भी पार्टी में सम्मान देते हैं। युवा होने से कोई युवा का नेता नहीं बन जाता है । युवा का दिल रखने वाला ही युवा का नेता होता है। खुद के शासनकाल  में नरसंहार करवाने वाले  बताएं…‘उन्होंने सिर्फ  अपनी संपत्ति बनायी, या  युवाओं के लिये कुछ  किया भी है।
Loading...