मुजफ्फरपुर कांड में मंजू वर्मा के बाद पूर्व मंत्री दामोदर रावत के बेटे के जुड़ रहे तार, जदयू ने निकाला

पटना:मुजफ्फरपुर कांड में एक के बाद एक बड़े लोगो का तार जुड़ता जा रहा है।इससे पहले समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के तार जुड़े नजर आ रहे थे जिससे उनका इस्तीफा देना पड़ा था।जिसके बाद अब एक बार और पूर्व मंत्री के तार इस कांड से जुड़ते नजर आ रहे हैं।जिसपर जेडीयू ने कड़ी कार्रवाई की है।

दरअसल मुजफ्फरपुर कांड की जांच में सीबीआई के रडार पर पूर्व समाज कल्याण विभाग के मंत्री दामोदर रावत और उसके बेटे राजीव रावत नजर आ रहे है।सीबीआई को इस बात के सबूत मिले हैं कि इस कांड के मुख्य आरोपी बृजेश ठाकुर के राजीव रावत के साथ संबंध थे।जिसके बाद जेडीयू ने राजीव रावत पर करवाई करते हुए पार्टी से निकाल दिया है।

इस मामले पर युवा जेडीयू के अध्यक्ष अभय कुशवाहा ने कहा कि राजीव रावत को पार्टी ने अनुशासनहीनता के कारण उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया।और माना जा रहा है कि CBI जल्द पूर्व समाज कल्याण विभाग के मंत्री दामोदर रावत और उसके बेटे से पूछताछ कर सकती है।

सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि सीबीआई को सबूत मिले हैं कि बृजेश रावत के मुजफ्फरपुर स्थित RM होटल में राजीव रावत अपने दोस्तों के साथ अक्सर जाया करता था और अय्याशी किया करता था। बृजेश ठाकुर के लिए राजीव रावत एक महत्वपूर्ण जरिया था जिससे ब्रजेश ठाकुर का संपर्क समाज कल्याण मंत्री दामोदर रावत से हो सके।जिसके बाद मंत्री दामोदर रावत पर आरोप लग रहे हैं कि उन्होंने बृजेश ठाकुर को अवैध तरीके से फायदा पहुंचाया।

Loading...