शहीद के परिवार के साथ नीतीश सरकार का मजाक ‘5 लाख का चेक हुआ बाउंस’

पटना:  पिछले दिनों सुकमा में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान रंजीत कुमार के परिवार को बिहार सरकार की तरफ से 5 लाख की सहायता राशि दी गई थी। लेकिन परिजनों ने जब चेक को बैंक में जमा करवाया तो वो बाउंस हो गया। परिजनों ने एचडीएफसी बैंक में चेक जमा करवाया था। इस मामले पर जिला प्रशासन ने बैंक की गलती बताई है।

इसे भी पढ़ें

अखिलेश यादव के विवादित बोल, पूछा ‘गुजरात के जवान शहीद क्यों नहीं होते हैं’?

शहीद सीआरपीएफ जवान रंजीत कुमार का पैत्रिक गांव शेखपुरा के फुलचोड़ में है। 26 साल के रंजीत कुमार 6 साल पहले सीआरपीएफ में भर्ती हुए थे। सुकमा में हुए नक्सली हमले में रंजीत शहीद हो गए थे। जिसके बाद राज्य सरकार की तरफ से उनके परिवार को 5 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की गई थी।

शेखपुरा के डीएम ने खुद 5 लाख रुपये का चेक शहीद के परिजनों को दिया था। बैंक की तरफ से चेक पर किये गए हस्ताक्षर पर अपत्ति जताई थी। जिसके बाद बैंक की तरफ से चेक वापस कर दिया गया। इस तरह से चेक बाउंस होने की वजह से शहीद का परिवार आहत है।

 

Loading...