बिहार में एक साल पहले मर चुकी शिक्षिका की भी ड्यूटी लग गई

पटना/बिहार:  बिहार में शिक्षा विभाग ने उस शिक्षिका का नाम 10वीं की बोर्ड परीक्षा में वीक्षण के लिए प्रेषित कर दिया जिनकी एक पहले ही मौत हो चुकी है। या मामला विक्रम के मध्य विद्यालय अछुआ का है। यहां सविता कुमार सिन्हा नाम की शिक्षिका की ड्यूटी लगा दी गई। इसमें खासबात ये है कि सविता कुमारी सिन्हा की मौत एक साल पहले ही हो चुकी है।

शिक्षा अधिकारी की तरफ से सविता कुमारी सिन्हा के नाम से वीक्षण कार्य की चिट्ठी जारी की गई। बताया जा रहा है विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को शिक्षिका के निधन की जानकारी मिल चुकी थी। इसके बावजूद भी विभाग की तरफ से उसकी ड्यूटी लगा दी गई।

इस मामले के सामने आने के बाद जिला शिक्षा विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पहले की जो सूची थी उसी के आधार पर नई सूची तैयार की गई। जब उनसे ये पूछा गया कि इसमें कहां और किससे गलती हुई तो उन्होंने बताया कि गलती तो जिला स्तर से ही हुई है।

जिस तरह से एक मृत शिक्षिका को वीक्षण का काम सौप दिया गया उससे ये तो साफ हो चुका है कि विभाग अपनी जिम्मेदारी को लेकर कितनी गंभीर है।

Loading...