बिहार उपचुनाव में यथा स्थिति कायम लेकिन तेजस्वी के लिए ये जीत बड़ी है

नीरज झा/बिहार

अररिया/बिहार:  बिहार विधानसभा के दो सीटों पर हुए उपचुनाव में एक सीट पर आरजेडी तो दूसरी सीट पर बीजेपी ने जीत दर्ज की। जहानाबाद से  कृष्ण मोहन उर्फ सूदय  यादव ने 35000 वोट से जदयू प्रत्याशी अभिराम शर्मा को पराजित कर दिया। शुरूआत में ही सूदय यादव बढत बनाते जा रहे थे। लेकिन बीच में अभिराम शर्मा ने थोड़ी देर के लिए  पटकनी  भी दी। रूझान में बदलाव देखने को मिला। लेकिन उसके बाद आरजेडी उम्मीदवार ने बढ़त कायम करने के बाद सीधे जीत दर्ज की।

आरजेडी को शायद अपनी  जीत का आभास था सुबह से ही हजारों समर्थकों का जमघट नजर आ रहा था। अभिराम शर्मा ने मिडिया से बात करते हुए कहा कि ये मेरी नहीं विकास की हार है। वे मतगणना खत्म होने के पूर्व ही मतगणना केन्द्र से निकल गए। जिससे उन्हें भी हार का आभास हो गया होगा क्योंकि  वे लगातार पिछड़ रहे थे।

तो वहीं भभुआ सीट पर बीजेपी उम्मीदवार पिंकी रानी ने  बीजेपी की उपचुनाव मे शाख बचा दिया। यहां पर उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार  शंभु पटेल को 15490 वोट के अतंर से हरा दिया।  मतगणना के आरंभ से ही वे बढ़त बनाकर आगे चल रही थी।
लेकिन सबसे बड़ा परिणाम आया अररिया लोकसभा उप चुनाव का। ये सीट पहले आरजेडी के पास ही थी। लेकिन ये तब की बात है जब जेडीयू और आरजेडी का गठबंधन था। लेकिन अब गठबंधन टूट चुका है और जेडीयू अपनी पुरानी साथी बीजेपी से हाथ मिला चुकी है। इस दोस्ती पार्ट 2 के बाद बिहार के सीएम नीतीश कुमार के लिए ये पहला चुनाव था। वहीं लालू के जेल जाने के बाद पार्टी मे पूरी तरह से सक्रिय हुए तेजस्वी यादव के लिए अररिया लोकसभा उपचुनाव पहली परीक्षा थी। जिसमें वो पास हुए।
Loading...