दृढ़ संकल्प से लबरेज हिमांशु ने मुफलिसी को दी मात, बिहार बोर्ड में बने टॉपर

पटना/बिहार:  एक बार फिर ये साबित हो गया है कि अगर मन में दृढ़ इच्छाशक्ति और कुछ कर गुजरने का संकल्प मन में हो तो कामयाबी के रास्ते में आनेवाली बाधाएं खुद ही बौनी हो जाती हैं। बिहार के रोहतास के रहनेवाले हिमांशु राज ने ये साबित कर दिया है। हिमांशु ने बिहार के 10वीं बोर्ड में टॉप किया है। हिमांशु ने 96.20 फीसदी नंबर लाया है। यानि कुल 500 में से हिमांसु ने 481 नंबर हासिल किये। इस स्वर्णिम कामयाबी को हासिल करनेवाले हिमांशु ने इस परीक्षा में शामिल 15 लाख छात्रों को पीछे छोड़ दिया है।

हिमांशु बेहद ही गरीब परिवार से आते हैं। घर की आर्थिक हालत काफी दयनीय है। जिस वजह से वो अपने पिता सुभाष सिंह के साथ सब्जी बेचने का काम करते थे। लेकिन इससे समय निकालकर हिमांशु पढ़ाई भी करता था। वो रोजाना तकरीबन 14 घंटे पढ़ाई करते थे। सुभाष सिंह सब्जी बेचने के साथ-साथ गांव में बच्चो को ट्यूशन भी पढ़ाते हैं। उनकी मां मंजू देवी पांचवीं पास हैं और गृहणी हैं।

हिमांशु की इस कामयाबी में उनके पिता भी बराबर सहयोग करते थे। सब्जी बेचने के साथ-साथ हिमांशु के पिता उसे पढ़ाने का काम भी करते थे। हिमांशु की मेहनत और पिता के उत्साहवर्धन ने अपना रंग दिखाया और आज हिमाशु ने बिहार बोर्ड में 10वीं की परीक्षा में सबसे ज्यादा अंक हासिल किया है। हिमांशु ने खुद के लिए भविष्य की रुपरेखा भी तैयार कर रखी है। हिमांशु बड़े होकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहते हैं।

(Visited 35 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *