अररिया: RBI के निर्देश के बाद भी बैंक ने सिक्के जमा लेने से किया इनकार, देखें Video

नीरज झा/अररिया
अररिया/बिहार:  एक तरफ सरकारी महकमा का फरमान है कि हर व्यक्ति को बैक से जोड़ना है। इसके लिए सरकारी कवायद भी हुई है। लोग जनधन खाते के माध्यम से बैंक से जुड़े भी हैं।  पहले की तुलना में खाताधारकों की संख्या में कई गुणा इजाफा हुआ है। लेकिन जब उसी बैक में आप सिक्के जमा कराने जाते हैं तो बैक वाले बाबू पैसे लेने से इनकार कर देते हैं। ऐसी ही घटना सामने आई है। बैंक सिक्के जमा लेने से इनकार कर रहा है।
अररिया जिले के  नरपतगंज  प्रखंड अंतर्गत चकरदाहा में स्थित उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक के मैनेजर ने सिक्का लेने से साफ इनकार कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार बढेपारा पंचायत निवासी जगदीश प्रसाद  यादव सोमवार को  बैंक सिक्के जमा करने के लिए गए तो बैक कर्मी ने सिक्के जमा लेने से साफ इनकार कर दिया।
यादव ने बताया कि उनका खाता यूबीजीबी चकरदाहा में है । वे महज तीन सौ पच्चीस रुपये का सिक्का लेकर बैंक जमा करने पहुंचे  लेकिन ब्रांच मैनेजर ने सिक्का लेने से साफतौर पर मना कर दिया ।
ऐसे में खाताधारकों की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है जब कोई व्यक्ति अपने रोजमर्रा की जिंदगी में मजदूरी कर अपने पेट बचाकर जब कुछ रूपये बचत करते हैं। लेकिन जब उसी पैसे को सुरक्षित करने के विचार लिए बैंक जमा करने पहुंचता है तो बैक सिक्के कहकर जमा नहीं लेने से पल्ला झाड़ लेते हैं । इस मामले को लेकर जब शाखाप्रबंधक से उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क करने की कोशिश की गयी तो उनका मोबाइल अॉफ था।
सिक्कों को लेकर RBI के क्या हैं गाइडलाइन्स?
सिक्‍कों को लेकर आ रही अफवाहों के बीच रिजर्व बैंक ने पिछले वर्ष ही एडवाइजरी जारी करके बैंकों को निर्देश दिए थे कि वे कारोबारियों और ग्राहकों से सिक्‍के में भी भुगतान एवं जमा लें। भारतीय रिजर्व बैंक ने सिक्कों की समस्या सुलझाने के लिए बैंक शाखाओं पर सिक्का मेला लगाने के लिए एडवाइजरी भी जारी किया था।  इस संबंध में बैंकों को निर्देश दिए जा चुके हैं। बता दें कि देश भर में करीब 25 हजार करोड़ रुपए के सिक्‍के प्रचलन में हैं। लेकिन आरबीआई के दिशानिर्देशों को भी बैक मैनेजर नजरअंदाज कर आखिर किस तरह से सिक्‍के लेने से इनकार कर रहे हैं। जिससे साफ साफ बैक कर्मी की मनमानी को दर्शाता है।
इसे भी पढ़ें
Loading...