अररिया में भीषण सड़क हादसे में 6 लोगों की मौत 8 घायल

नीरज झा/अररिया
अररिया/बिहार:  अररिया जिले के  नरपतगंज में नरपतगंज-फारबिसगंज एनएच 57 फोरलने हाईवे पर सोमवार की देर शाम फारबिसगंज की तरफ से आ रही यात्रियों से खचाखच भरी सूरज ट्रेवल्स भूमि विमान बस तथा उल्टी दिशा से आ रही जेसीबी की आमने-सामने टक्कर हो गयी। टक्कर में 6 लोगों की मौत हो गई। जबकि आठ लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घायलों को निकट के अस्पताल में भर्ती कराया गया हैै। कुछ घायलों की हालत गंभीर थी जिन्हें दूसरे अस्पताल में रेफर कर दिया गया है। हादसे का शिकार हुई बस जोगबनी से सुपौल जा रही थी। मृतकों में छोटे बच्चे, महिला और बुजुर्ग शामिल है। माना जा रहा है तेज रफ्तार की वजह से ये हादसा हुआ।
बस सोमवार शाम फारबिसगंज से सुपौल के लिए चली थी। नरपतगंज बस स्टैंड से करीब पांच किलोमीटर पहले उल्टी दिशा से आ रही जेसीबी का बस से आमने सामने की टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि जेसीबी सीधे बस पर जाकर पलट गया।  जिससे बस के भी परखच्चे उड़ गए। हादसे में जेसीबी चालक समेत बस पर सवार तीन महिलाएं समेत एक आठ साल के बच्चे का मौके पर ही मौत हो गयी।
बस पर बैठे करीब दो दर्जन यात्री इस घटना में जख्मी हो गए। घटना की सूचना मिलते ही फारबिसगंज डीएसपी मनोज कुमार, एसडीओ अनिल कुमार, सीओ निशांत कुमार, थानाध्यक्ष सुनील कुमार मौके पर पहुंचे तथा सभी घायलों को इलाज के लिए नरपतगंज पीएचसी पहुंचाया। इस घटना में पांचों शवों की हालत इतनी खराब हो गई थी कि पहचान कर पाना मुश्किल हो रहा था।
नरपतगंज अस्पताल में 5 घायलों की हालत गंभीर बताते हुए चिकित्सकों ने उन्हें बेहतर इलाज के लिए फारबिसगंज रेफर कर दिया है। घायलों में सुपौल के कलागोविंदपुर के दो भाई विशेश्वर पासवान तथा युगेश्वर पासवान, नरपतगंज मधुरा दक्षिण के अजय भगत, नरपतगंज नाथपुर के योगधर यादव तथा नरपतगंज के खैरा गढ़िया के मो़ कासीम शामिल हैं। घटना को लेकर अस्पताल परिसर में घायलों के रिश्तेदार तथा लोगों की भीड़ के कारण अफरातफरी का माहौल है। बस शाम छह बजे फारबिसगंज बस स्टैंड से सुपौल के लिए यात्रियों को लेकर निकली थी। बस पर ज्यादातर नरपतगंज, भीमपुर तथा सुपौल जिले के लोग सवार थे।
सीएम नीतीश कुमार हादसे पर जताया शोक
 सीएम नीतीश कुमार ने  इस घटना को बेहद दुखद बताया है।  साथ ही शोक संतप्त परिवारों को इस दुख की घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने  घटना में मृत व्यक्ति के आश्रितों को चार-चार लाख रुपये बतौर अनुग्रह अनुदान देने की घोषणा की है। उन्होंने घटना में घायल लोगों के समुचित इलाज कराने के निर्देश भी दिए हैं।
Loading...