BHU के VC छुट्टी पर गए, छात्रों की पिटाई के बाद विवदों में आए थे, बताई ये वजह

नई दिल्ली:  बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर जीसी त्रिपाठी छुट्टी पर चले गए हैं। उन्होंने छुट्टी पर जाने की वजह  निजी कारणों का हवाला दिया है। यूनिवर्सिटी में सुरक्षा मांग रहे छात्रों पर लाठीचार्ज के बाद से ही वो विवादों में रहे थे। उन्हें छुट्टी पर भेजे जाने की बात उसके बाद से ही की जा रही थी लेकिन तब उन्होंने कहा था कि अगर उन्हें छुट्टी पर भेजा जाएगा तो वो इस्तीफा दे देंगे। 30 नवंबर को जीसी त्रिपाठी का कार्यकाल खत्म हो रहा है।

छात्रों पर हुए लाठीचार्ज पर पीएम मोदी ने भी सीएम योगी को विवाद को सुलझाने के निर्देश दिये थे। इस मामले की जांच के बाद कमिश्नर की रिपोर्ट में यूनिवर्सिटी प्रबंधन को हालात बिगाड़ने के लिए जिम्मेदार बताया गया था। कमिश्नर की रिपोर्ट में कहा गया था कि प्रबंधन हालात को संभाल नहीं पाया जिस वजह से स्थिति ज्यादा विस्फोटक हुई।

इस मामले में वाइस चांसलर को दिल्ली भी तलब किया गया था। वहीं शुक्रवार को BHU विवाद की जांच कर रही क्राइम ब्रांच ने पूर्व प्रक्टर  ओंकारनाथ सिंह समेत 20 को तलब भी किया था। BHU में हालात बिगड़ने के बाद ओंकारनाथ सिंह ने इस्तीफा दे दिया था। BHU हिंसा में क्राइम ब्रांच की तरफ से 10 छात्रों को भी नोटि जारी किया गय है।

दरअसल पिछले दिनों छात्राओं के साथ हुई छेड़छाड़ की घटना के बाद उन्होंने यूनिवर्सिटी प्रशासन के सामने अपने सुरक्षा की मांग रखी थी। जिसमें कुछ मांग की गई थी जिसमें सीसीटीवी लगाने, सुरक्षा गार्ड की तैनाती जैसी मांगें थीं। अपनी मांगों को लेकर छात्राओं ने BHU में धरना दिया था। छात्रों का आरोप है कि उनका धरना बिल्कुल शांतिपूर्ण था लेकिन पुलिस ने उनपर अचानक से रात के वक्त लाठीचार्ज कर दिया। वाइस चांसलर पर ये आरोप लगाए जा रहे थे कि उन्हीं के आदेश पर लाठीचार्ज किया गया। जिसके बाद BHU में हालात विस्फोटक हो गया था।

Loading...