इंदौर शहर के भय्यूजी महाराज ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में डिप्रेसन को बताया वजह

नई दिल्ली:मध्य प्रदेश इंदौर शहर के भय्यू जी महाराज ने खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली।जिसके बाद बॉम्बे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।उनके इस घटना के बाद उनके चाहने वालों को साफ झटका लगा।हॉस्पिटल के बाहर उनके समर्थकों की भारी भीड़ जमा हो गई है।

आध्यात्मिक संत भय्यूजी महाराज का एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमें उन्होंने आत्महत्या करने की वजह परिवारिक कलह बताई गई है। सुसाइड नोट के मुताबिक वे भारी डिप्रेशन में थे।

मौत से पहले किया था पोस्ट…
भय्यू जी महाराज सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते थे।मौत से कुछ घंटे पहले भी उन्होंने कुछ पोस्ट और ट्वीट किए थे।अपने सबसे आखिरी ट्वीट में उन्होंने मासिक शिवरात्रि की बधाई दी थी।

दूसरी बीबी से होता था झगड़ा…
नवंबर 2015 में भय्यू जी महाराज की पहली पत्नी माधवी का निधन हो गया था. उन्होंने 30 अप्रैल 2017 को डॉक्टर आयुषी शर्मा से दूसरी शादी की थी।सूत्रों के मुताबिक  उनकी पहली बीवी से हुई बेटी को लेकर उनके और उनकी दूसरी पत्नी के बीच झगड़ा होता रहता था।लेकिन सुसाइड नोट के मुताबिक उन्होंने खुदखुशी का जिम्मेवार किसी को नही ठहराया है।उन्होंने सुसाइड नोट में लिखा, “मेरी मौत के बाद मेरे परिवार का ख्याल रखें, मैं जा रहा हूं, मैं बहुत तनाव में हूं और पूरी तरह थक चुका हूं…”

Loading...