blue whel game

चोटी को छोड़िये पहले अपने बच्चे को ब्लू व्हेल चैलेंज से बचाइये, देर ना हो जाए

चोटी को छोड़िये पहले अपने बच्चे को ब्लू व्हेल चैलेंज से बचाइये, देर ना हो जाए

नई दिल्ली:  देश में चोटी कटने की घटना की चर्चा खूब हो रही है। हर दिन एक नए शहर से चोटी कटने की घटना सामने आ रही है। हलांकि इसे पूरी तरह से अफवाह करार दिया जा रहा है। लेकिन जिस कातिल वीडियो गेम का जिक्र यहां किया जा रहा है वो अफवाह नहीं है बल्कि आनेवाले दिनों में एक बड़ा खतरा बनने वाला है। इस खतरे का नाम है ब्लू व्हेल चैलेंज।

भारत में मुंबई में इस ब्लू व्हेल चैलेंज से पहली मौत की खबर 29 जुलाई को सामने आई थी। उसके बाद गुरुवार को मध्य प्रदेश के इंदौर से आई। जहां एक लड़का स्कूल की तीसरी मंजिल से ब्लू व्हेल टास्क को पूरा करने के लिए छलांग लगाने जा रहा था। लेकिन वक्त रहते उसके दोस्तों ने उसे ऐसा करते हुए देख लिया और छत की रेलिंग से खींचकर उतार दिया।

इसके बाद अगली घटना महाराष्ट्र से सामने आई। महाराष्ट्र के सोलापुर में 11 साल का लड़का ब्लू व्हेल का टास्क पूरा करने के लिए घर छोड़कर निकल गया। घर से जाते वक्त उसने एक चिट्ठी छोड़ी थी। जिसमें उसने लिखा था स्कूल बदलने की वजह से मैं घर छोड़कर जा रहा हूं। मुझे ढूंढने की कोशिश मत करना। यदि ऐसा किया तो मैं कुछ भी कर लूंगा।

Loading...

Leave a Reply