Beef In Temple To Spark Ramzan Riots

हैदराबाद के मंदिर में बीफ रखकर दंगा करवाने की तैयारी में था ISIS

हैदराबाद के मंदिर में बीफ रखकर दंगा करवाने की तैयारी में था ISIS

हैदराबाद शहर में रची जा रही एक बड़ी साजिश को नाकाम किया जा चुका है। इसबार बर्बर आतंकी संगठन ISIS रमजान के दौरान शहर में दंगा भड़काने की साजिश रच रहा था। इसके लिए हैदराबाद में कुछ लोगों से ISIS का हैंडलर लगातार संपर्क में था। इनकी तैयारी करीब करीब पूरी हो चुकी थी। लेकिन खुफिया एजेंसियों की मुस्तैदी ने एक बड़ी साजिश को बेनकाब कर दिया।

राष्ट्रीय खुफिया एजेंसी यानि NIA ने हैदराबाद में 9 जगहों पर छापेमारी की। जिसमें ISIS के संपर्क में रहनेवाले 5 युवाओं को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में 6 से NIA पूछताछ कर रही है। गिरफ्तार लोगों से पूछताछ में NIA को पता चला कि रमजान के महीने में दंगा भड़काने की साजिश रची जा रही थी। इसके लिए इन्होंने चारमीनार के पास भाग्य लक्ष्मी मंदिर में गोमांस रखने की भी योजना बनाई थी। हैदराबाद का ये इलाके शहर के व्यस्ततम इलाकों में से एक है।

NIA ने जिन संदिग्धों को गिरफ्तार किया है उनके पास से तकरीबन 15 लाख रुपया नकद बरामद किया गया है। हैदराबाद में दंगा के बाद शहर में कई जगहों पर बम धमाका करने की भी तैयारी थी। लेकिन इनका मुख्य मकसद दंगा कराना था। इसके लिए भाग्य लक्ष्मी मंदिर को चुना गया था। जहां इन्होंने गाय और भैंस के मीट रखने की योजना बनाई थी।

NIA के मुताबिक हैदराबाद से गिरफ्तार युवक ISIS के हैंडलर शफी अरमर के साथ नियमित रुप से संपर्क में थे। ये सभी युवकर पिछले 4-5 महीनों से एनआईए की रडार पर थे। हैदराबाद शहर में धमाका और दंगा कराने के लिए दुबई से फंडिंग हो रही थी। 25 जून को टेलीफोन पर हुई बातचीत सामने आने के बाद इन्हें गिरफ्तार करने का फैसला लिया गया।

NIA सूत्रों के मुताबिक एक संदिग्ध ने दूसरे शख्स से फोन पर उस दिन गाय और भैंस के मांस के चार-चार टुकड़े, और फिर अगले दिन गोमांस के सात टुकड़े लाने के लिए कहा था। अगले कुछ दिनों में हैदराबाद शहर में धार्मिक सौहार्द बिगाड़े और दंगा करवाने की साजिश रची गई थी।

NIA के एक अधिकारी के मुताबिक गोमांस को लेकर फोन पर हुई बातचीत के बाद NIA ने एक्शन लेने का फैसला किया। एनआईए को शक है कि ISIS से प्रेरित ये युवा सीरिया में बैठे हैंडलर आमिर से संपर्क में थे। इनके निशाने पर वीवीआई, शहर के मॉल, भीड़भाड़ वाले शॉपिंग सेंटर, चारमीनार के आसपास के इलाकों को निशाना बनाने की तैयारी थी। इसके साथ ही ये शहर के दो मंदिरों में गोमांस रखना चाहते थे। जिसमें भाग्यलक्ष्मी मंदिर भी था। NIA सूत्रों के मुताबिक आमिर ही शफी अरमर उर्फ यूसुफ अल हिन्दी है।

NIA ने जिन्हें गिरफ्तार किया है उसमें मोहम्मद इलियास यजदी, मोहम्मद इब्राहिम यजदी, हबीब बरकम, मोहम्मद इरफान और अब्दुल्ला बन अहमद अलमुदि उर्फ फहद शामिल है। इनसे पूछताछ के बाद और 6 युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इनके पास से 15 लाख रुपये, 25 मोबाइल फोन, एक एयरगन, बम बनाने में इस्तेमाल होनेवाला नट बोल्ट, नाइट्रेट कैमिकल और IED बरामद किया गया।
-Hydrabad Temple Bhagya Laxmi, Beef In Temple To Spark Ramzan Riots

Loading...

Leave a Reply