बवाना आग: बीजेपी मेयर की चोरी कैमरे में कैद, अनजाने में बोलीं सच्चाई, देखें Video

नई दिल्ली:  दिल्ली के बवाना इंडस्ट्रीयल एरिया लगी भीषण आग ने सियासत में भी गर्मी ला दी है। इस मामले पर बीजेपी और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं में झड़प भी हुई है। इस अग्निकांड में 17 लोगों की मौत हो चुकी है। जिनमें से 8 महिलाएं भी शामिल हैं। इन 17 मौत और लापरवाही के बाद अब जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ने की कोशिश भी शुरु हो गई है।

इसी जिम्मेदारी से बचने के क्रम में नॉर्थ एमसीडी की मेयर बीजेपी की प्रीती अग्रवाल ने अनजाने में कुछ ऐसा कह दिया जिससे ये बात भी साबित हो गई कि इन 17 मौतों में जिम्मेदारी उनकी भी है। दरअसल इस भयंकर अग्निकांड पर मीडिया के कैमरे प्रीति अग्रवाल का पक्ष जानना चाह रही थी। लेकिन कैमरे पर कुछ बोलने से पहले उन्होंने अपने बगल में खड़े अपने शुभचिंतक से कान में ये कहते पकड़ी गईं कि इस फैक्ट्री की लाइसेंसिंग हमारे पास है। इसलिए हम इसपर कुछ नहीं बोल सकते। उनके इतना कहने पर उनके बगल में खड़े व्यक्ति ने कहा हम कह देते हैं जांच करवाएंगे।

बवाना में शनिवार की शाम को सेक्टर 1, सेक्टर 3 और सेक्टर 5 में तीन फैक्ट्रीयों में आग लग गई। जिनमें से 1 और 3 सेक्टर की आग पर तो काबू पा लिया गया। लेकिन सेक्टर 5 के जिस पटाखा फैक्ट्री में आग लगी उसमें 17 लोगों की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक आग की शुरुआत प्लास्टिक फैक्ट्री से हुई जिसने पटाखा फैक्ट्री को अपनी चपेट में ले लिया। यहां बेसमेंट, ग्राउंड फ्लोर और पहली मंजिल पर आग फैल गई। जिसमें 13 लोग पहली मंजिल पर, 3 लोग ग्राउंड फ्लोर पर और एक शख्स की मौत बेसमेंट में हुई।

Loading...