योगीराज: यूपी के इस स्कूल में डीएम ने शिक्षकों को सेल्फी लेने का आदेश दिया है

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश में जब से सत्ता परिवर्तन हुआ है उसके बाद से काफी कुछ बदल रहा है। इसी बदलाव में व्यवस्थाएं भी बदल रही हैं। नए प्रयोग किये जा रहे हैं ताकि जिस सुधार और बदलाव का संकल्प सीएम योगी आदित्यनाथ ने लिया है वो पूरा हो सके। इसी क्रम में चंदौली के एक सरकारी स्कूल में नया प्रयोग किया गया। यहां के डीएम कुमार प्रशांत ने शिक्षकों को छात्रों के साथ सेल्फी लेकर अटेंडेंस बनाने का फरमान सुनाया।

डीएम के इस आदेश के बाद स्कूल की व्यवस्था में काफी सुधार देखने को मिल रहा है। चंदौली के नौगढ़ ब्लॉक के सभी स्कूलों में ‘सेल्फी विद अटेंडेंस’ योजना की शुरुआत की गई। नौगढ़ ब्लॉक के स्कूलों में इस योजना को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरु किया गया था। लेकिन इसकी कामयाबी के बाद अब 1 मई से इसे पूरे जिले में शुरु किया जाएगा।

ये भी पढें :

– मुंबई, हैदराबाद, चैन्नई हवाई अड्डों पर विमान हाईजैक की साजिश के बाद हाईअलर्ट
– मक्का में सोफिया हयात के साथ हुई छेड़खानी और यौन शोषण

दरअसल नक्सल प्रभावित जिला होने की वजह से यहां कोई शिक्षक स्कूल नहीं आना चाहते थे। छात्रों की उपस्थिति भी बहुत कम या ना के बराबर रहती थी। लेकिन जब से ‘सेल्फी विद अटेंडेंस’ की शुरुआत की गई छात्रों की उपस्थिति में 15 फीसदी का इजाफा हुआ है।

‘सेल्फी विद अटेंडेंस’ योजना के तहत शिक्षक प्रार्थना के वक्त छात्रों के साथ सेल्फी लेते हैं और उसे बीआरसी के व्हाट्सऐप पर सेंड कर देते हैं। फिर बीआरसी के खंड शिक्षा अधिकारी उसे बीएसए, डीएम और सीडीओ के व्हाट्सऐप ग्रुप में सेंड करते हैं। इससे स्कूलों में प्रतिदिन छात्रों की उपस्थिति के बारे में जानकारी मिल जाती है। फिलहाल ये योजना 150 सरकारी स्कूल में लागू है। इसकी नियमित रुप से मॉनिटरिंग भी की जाती है।

Loading...

Leave a Reply