arvind-kejriwal punjab election

दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने की मांग पर अरविंद केजरीवाल का डबल अटैक

दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने की मांग पर अरविंद केजरीवाल का डबल अटैक

दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने का मुद्दा एक बार फिर गरमाने लगा है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस में बीजेपी और कांग्रेस दोनों को ये याद दिलाने की कोशिश की है की दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने का वादा वे भी करते आए हैं। इसलिए अब वक्त आ गया है कि बीजेपी ने दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने का जो वादा दिल्लीवालों से किया था उसे पूरा किया जाए।

सीएम अरविंद केजरीवाल पूरी तैयारी के साथ प्रेस कांफ्रेंस में आए थे। उन्होंने कहा की बीजेपी ने 1993, 2003, 2008 और 2014 में अपने मेनिफेस्टो में दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने का जिक्र किया था। उन्होंने कहा की केवल बीजेपी ही नहीं कांग्रेस ने भी 2003 और 2013 के मेनिफेस्टो में दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने का वादा किया था। आगे केजरीवाल ने कहा की हम भी दिल्ली को पूर्ण राज्य बनते देखना चाहते हैं। चुकी केंद्र में इस वक्त बीजेपी की सरकार है इसलिए हमारी उनसे मांग है कि वो दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दें।

दिल्ली सरकार ने पूर्ण राज्य का पूरा ड्राफ्ट तैयार किया है। जिसे वो मीडिया के सामने रख रहे थे। उन्होंने कहा की इस ड्राफ्ट को सभी संबंधित मंत्रालयों को भेजा जाएगा।

दरअसल दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने का मामला अबतक राजनतिक दलों के मेनिफेस्टो में ही ज्यादा देखने को मिला है। बीजेपी ने चुनाव से पहले पूर्ण राज्य की बात कही। उससे पहले जब दिल्ली में कांग्रेस की सरकार थी तब भी शीला दीक्षित की तरफ से पूर्ण राज्य की बात कही जाती रही थी। लेकिन कोई भी दल इसे हकीकत में नहीं बदल सका।

अब दिल्ली की केजरीवाल सरकार इस दिशा में आगे बढ़ी है। अभी तो केजरीवाल ने काफी संयमित और संक्षिप्त शब्दों में दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने की मांग रखी है। लेकिन इस मांग ने ये इशारा भी कर दिया है कि अब आम आदमी पार्टी की अगली लड़ाई दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए होगी। वहीं इसपर बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी का कहना है कि केजरीवाल पहले दिल्ली में बिजली-पानी के इंतजाम को देखें।

Loading...

Leave a Reply