manish-sisodia

केवल सिसोदिया ही क्यों मोदी जी के खिलाफ भी हो सीबीआई जांच- केजरीवाल

केवल सिसोदिया ही क्यों मोदी जी के खिलाफ भी हो सीबीआई जांच- केजरीवाल




नई दिल्ली: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि अगर विज्ञापन मामले में मनीष सिसोदिया के खिलाफ मोदी जी सीबीआई जांच करवा सकते हैं तो फिर उसी तरह के विज्ञापन मामले में मोदी जी के खिलाफ सीबीआई जांच क्यों नहीं हो सकती है?

सीएम केजरीवाल ने कहा टॉक टु एके के कैंपेन का ठेका मनीष सिसोदिया ने उसी तरह से दिया जैसे केंद्र सरकार की योजनाओं के डिजिटल कैंपेन का ठेका दिया जाता है। ऐसे में जब मोदी मनीष के खिलाफ सीबीआई जांच करा सकते हैं उनके खिलाफ भी सीबीआई जांच होनी चाहिए। केजरीवाल ने कहा ये दोनों मामले एक जैसे हैं लेकिन इनपर कार्रवाई अलग-अलग तरीके से हो रही है।

मनीष सिसोदिया ने मेक इन इंडिया, नमो एप, स्टार्ट अप इंडिया और डिजिटल इंडिया के विज्ञापन में भारत सरकार ने किस प्रक्रिया को अपनाया था? उन्होंने आरटीआई में लिखा है सोशल मीडिया में इसके प्रचार के लिए भारत सरकार ने किस प्रक्रिया के तहत टेंडर दिया? इस आरटीआई में 10 सवाल पूछे गए हैं। इस आरटीआई को दाखिल करने के बाद सिसोदिया ने कहा टॉक-टु-एके कैंपेन को लेकर हमारे ऊपर सवाल उठाए गए हैं। सोशल मीडिया पर विज्ञापन की क्रेडिट लिमिट होती है। इसके लिए किसी का क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल किया जाता है। अब हम आरटीआई के माध्यम से जानना चाहते हैं कि मोदी जी ने 4 बड़े ऐप के कैंपेन का भारत सरकार सोशल मीडिया पर किस तरह से प्रचार कर रही है? इसके लिए कितनी क्रेडिट लिमिट तय की गई है और इसके लिए किनका क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल किया गया है? हम जानना चाहते हैं कि किस कंपनी को इसका ठेका दिया गया?

सिसोदिया ने कहा कि यदि हम जनता के दिल की बात जनता से करते हैं तो वह करप्शन हो जाता है। लेकिन मोदी जी मन की बात का विज्ञापन दें तो वह देशभक्ति हो जाती है। इसमें अंतर क्यों?

Loading...

Leave a Reply