THROUGH THE WALL

सेना का ये डिवाइस है आतंकियों का काल, अब घर में छिपे आतंकी भी तुरंत मारे जाएंगे

सेना का ये डिवाइस है आतंकियों का काल, अब घर में छिपे आतंकी भी तुरंत मारे जाएंगे

नई दिल्ली:  जम्मू कश्मीर में सेना के लिए सबसे बड़ी परेशानी तब खड़ी हो जाती है जब आतंकी किसी घर में घुस जाते हैं। क्योंकि इस हालत में बाहर मोर्चाबंदी किये बैठी सेना को ये पता नहीं चल पाता है कि आतंकी घर के किस हिस्से में हैं। जिसकी वजह से ऑपरेशन लंबा खिंच जाता है। कई बार तो कई दिनों तक ऑपरेशन खिंच जाता है। इस बीच दूसरी चुनौती ये खड़ी हो जाती है कि इतने देर तक ऑपरेशन चलने की वजह से पत्थरबाजों को मौका मिल जाता है एनकाउंटर वाली जगह पर पहुंचने का। जिसके बाद सेना को दोतरफा मोर्चा संभालना पड़ता है। कई बार इसका फायदा उठाकर आतंकी फरार होने में कामयाब हो जाते हैं।

लेकिन अब ऐसा होना मुमकिन नहीं है। क्योंकि सेना को वो डिवाइस मिल चुका है जिसकी जरुरत मुंबई में हुए आतंकी हमले के बाद से महसूस की जा रही थी। इस डिवाइस के जरिये सेना दीवार के आर पार देख सकेगी। और आसानी से इस बात का पता लगा सकती है कि आतंकी घर के किस हिस्से में हैं और किस हालत में हैं। इस डिवाइस के जरिये सेना को ये भी पता चल जाएगा कि आतंकियों की तादाद कितनी है और उनके पास हथियार किस तरह के हैं।

इस डिवाइस का नाम है ‘थ्रू द वॉल।‘ इस तरह के डिवाइस को इजरायली सेना काफी पहले से इस्तेमाल करती आ रही है। लेकिन अब ये भारतीय सेना को भी मिल गई । अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में सेना के उच्च पदस्थ सूत्रों के हवाले से छापा है कि सेना के लिए अमेरिका और इजरायल से थ्रू द वॉल रडार मंगवाए गए हैं। जिससे दीवार के आरपार देखा जा सकेगा। ये रडार तलाशी अभियान में आतंकियों की सटीक पोजीशन के बारे में जानकारी देने में काफी कारगर साबित हो रही है।

Loading...

Leave a Reply