manohar-parrikar-defence-minister

सेना प्रमुख के समर्थन में रक्षा मंत्री ‘कश्मीर में सेना पर पत्थर फेंकनेवालों पर चलाएंगे गोली’

सेना प्रमुख के समर्थन में रक्षा मंत्री ‘कश्मीर में सेना पर पत्थर फेंकनेवालों पर चलाएंगे गोली’




नई दिल्ली: रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सेना प्रमुख विपिन रावत के उस बयान का समर्थन किया है जिसमें उन्होंने कहा था कि आतंकियों से एनकाउंटर के दौरान सेना पर पत्थर फेंकनेवालों को गोलियों से जवाब देंगे। सेना प्रमुख के बयान का समर्थन करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि घाटी में जब कहीं एनकाउंटर चल रहा होता है तो उस वक्त सेना को इस तरह के फैसले लेने की खुली छूट दी गई है।

एक न्यूज चैनल को दिये इंटर्व्यू में जब उनसे ये पूछा गया कि क्या इससे घाटी के लोगों में गलत संदेश नहीं जाएगा और वो ये नहीं मानेंगे कि सेना उन्हें आतंकी मानती है? इसके जवाब में मनोहर पर्रिकर ने कहा कि सेना के इस बयान से जम्मू कश्मीर के आम लोगों का कोई सरोकार नहीं है। इसमें आम लोग शामिल नहीं हैं। केवल उन लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही गई है जो आतंकियों की मदद करते हैं। और जब सेना उन आतंकियों के साथ मुठभेड़ कर रही होती है तो कुछ उपद्रवि सेना पर पत्थर फेंकते हैं और आतंकियों को बच कर भाग जाने का मौका देते हैं।

दरअसल पिछले दिनों जम्मू कश्मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सेना के एक मेजर समेत तीन जवान शहीद हो गए थे। एनकाउंटर में तीन आतंकी भी मारे गए थे। मुठभेड़ में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने कहा था कि जम्मू कश्मीर के वो लोग जो आतंकियों के मददगार बन रहे हैं उनसे अपील है कि वो ऐसा न करें और सेना को अपनी कार्रवाई में सहयोग करें। साथ ही सेना प्रमुख ने कहा था कि अगर इसके बाद भी वो सही रास्ते पर नहीं आते हैं तो फिर सेना उनसे सख्ती से निपटेगी। अगर जरुरत हुई तो उनके खिलाफ गोलियों का भी इस्तेमाल किया जाएगा।

Loading...

Leave a Reply