APACHE CHOPPER

सेना मांग रही है अपाचे हेलीकॉप्टर, इस हवाई बेड़ा का कंट्रोल भी चाहती है सेना

सेना मांग रही है अपाचे हेलीकॉप्टर, इस हवाई बेड़ा का कंट्रोल भी चाहती है सेना

नई दिल्ली:  पाकिस्तान और चीन की गतिविधियों पर नजर रखने और उनकी हरकतों का जवाब देने के लिए सेना अपाचे हेलीकॉप्टर की मांग कर रही है। रक्षा मंत्री अरुण जेटली के साथ होनेवाली बैठक में सेना अपनीये मांग रखेगी। सेना अपाचे हेलिकॉप्टर का कंट्रोल भी अपने पास रखना चाहती है। यानि सेना अपना हवाई बेड़ा तैयार करना चाहती है। इसके पीछे सेना का मानना है कि जमीन पर लड़े जाने वाली लड़ाई को सेना ज्यादा बेहतर तरीके से समझती है। लेकिन वायुसेना इसके लिए तैयार नहीं है।

सेना के सूत्रों के मुताबिक इस हेलीकॉप्टर को तीन स्क्वाड्रन में बांटा जाएगा। हर एक स्क्वाड्रन में 10 हेलीकॉप्टर होंगे। जिन्हें पाकिस्तान और चीन की सीमा पर तैनात किया जाएगा। सेना फॉरेन मिलिट्री सेल्स के जरिये अमेरिका से अपाचे हेलीकॉप्टर खरीदना चाहती है। सेना का मानना है कि युद्ध के दौरान वायुसेना के मुकाबले थल सेना के अपने फ्लाइंग ऑफिसर उनकी मदद में ज्यादा कारगर साबित होंगे।

APACHE CHOPPER

इसकी वजह ये है कि थलसेना के ऑफिसर जमीन पर होनेवाले युद्ध को ज्यादा बेहतर तरीके से समझ पाते हैं। लेकिन सूत्र बताते हैं कि वायुसेना ऐसा नहीं चाहती है। आर्मी ऑफिसर ने कहा हमने वायुसेना से 22 अपाचे हेलीकॉप्टर थल सेना को देने की बात कही थी। लेकिन उन्होंने इसे इनकार कर दिया।

Loading...

Leave a Reply