अखाड़ा परिषद ने जारी की 14 फर्जी बाबाओं की लिस्ट, इनसे सावधान रहें

नई दिल्ली:  धर्म के नाम पर पाखंड की दुकान सजाने वालों के खिलाफ अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने बड़ा कदम उठाया है। अखाड़ा परिषद ने 14 फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की है। जो धर्म के नाम पर लोगों के साथ छल करने का काम कर रहे हैं। रविवार को इलाहाबाद में हुई अखाड़ा परिषद की बैठक में लिस्ट जारी की गई। इन 14 फर्जी बाबाओं की लिस्ट आप भी याद कर लें

आसाराम उर्फ आशुमल शिरमलानी

सुखबिंदर कौर उर्फ राधे मां

गुरमीत राम रहीम सिंह

सच्चिदानंद गिरी उर्फ सचिन दत्ता

ओमबाबा उर्फ विविकानंद झा

निर्मल बाबा उर्फ निर्मलजीत सिंह

इच्छाधारी भीमानंद उर्फ शिवमूर्ति द्विवेदी

स्वामी असीमानंद

ओम नम: शिवाय बाबा

नारायण साईं

रामपाल

आचार्य कुशमुनि

मलखान सिंह

अखाड़ा परिषद ने संत की उपाधी देने पर नियम बनाए हैं। जिसके मुताबिक अब किसी को भ संत की उपाधी देने से पहले उसकी पूरी जांच पड़ताल की जाएगी। उसके बारे में पूरा आकलन करने के बाद उसे संत की उपाधी देने पर फैसला किया जाएगा। संत की उपाधी देने से पहले अखाड़ा परिषद ये भी देखेगी की व्यक्ति की जीवन शैली कैसी है। परिषद की तरफ से ये भी कहा गया है कि संत की उपाधी लेने वाले व्यक्ति के पास नकदी या उसके नाम पर कोई संपत्ति नहीं होगी।

इस लिस्ट के जारी होने से पहले अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि को जान से मारने की धमकी भी मिली है। इस मामले में उन्होंने दारागंज थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करवाई है। उन्होंने कहा कि उन्हें तीन अलग अलग नंबर से धमकी दी गई है। धमकी देनेवाले ने खुद को आसाराम का शिष्य बताया था। जिन फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की गई है उसमें आसाराम का भई नाम शामिल है।

Loading...