BRICS

डोभाल के दौरे के बीच बोला चीन सिक्किम में पीछे नहीं हटे तो कश्मीर में देंगे दखल

डोभाल के दौरे के बीच बोला चीन सिक्किम में पीछे नहीं हटे तो कश्मीर में देंगे दखल

नई दिल्ली:  भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल इन दिनों चीन में हैं। अजीत डोभाल ब्रिक्स के शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों के साथ बैठक करने के लिए चीन गए हैं। गुरुवार को डेभाल ने अपने चीनी समकक्ष यांग जिची से मुलाकात की। ये उम्मीद की जा रही है कि शुक्रवार को डोभाल चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात कर सकते हैं। अजीत डोभाल ने आतंकवाद के खिलाफ सभी ब्रिक्स देशों से एकजुट होने की अपील की है। बैठक में चीन ने एक बार  फिर से डोकलाम और जम्मू कश्मीर का मुद्दा उठाया।

डोभाल के चीनी दौरे से भारत-चीन के बीच सिक्किम में बने तनाव के हालात का हल निकलने की उम्मीद जताई जा रही है। क्योंकि डोभाल और यांग जिची दोनों भारत-चीन सीमा तंत्र के विशेष प्रतिनिधि हैं।

तनाव का हल निकालने की कोशिशों बीच चीनी मीडिया ने एक बार पिर डोकलाम विवाद पर धमकी दी है। चीन की अखबार ग्लोबल टाइम्स में लिखा गया है चीन डोकलाम के मुद्दे पर किसी तरह का समझौता नहीं करेगा। अखबार में ये भी लिखा गया है कि अजीत डोभाल के चीन दौरे से कोई फर्क नहीं पड़ेगा। चीन अपने रूख पर कायम है। चीन ने अपना रुख साफ करते हुए कहा है पहले भारत डोकलाम से अपनी सेना वापस बुलाए उसके बाद ही शांति की बातचीत हो सकती है।

चीन ने कहा है कि अगर भारत डोकलाम के मुद्दे पर पीछे नहीं हटता है तो चीन कश्मीर के मामले मे दखल देगा। जम्मू कश्मीर में दखल देने की बात चीन ने इससे पहले भी कही थी। चीन की तरफ से दलील दी जा रही है कि चीन और भूटान के बीच भारत तीसरे पक्ष के रुप में दखल दे रहा है। अगर इसी तरह से होता रहा तो चीन भी पाकिस्तान की अपील पर जम्मू कश्मीर में दखल दे सकता है।

Loading...

Leave a Reply