AI के पायलट ने कहा ‘प्लेन चढ़ा दूंगा’ कहना, ग्राउंड इंजीनियर ने कर दी शिकायत




नई दिल्ली: काम के दबाव में इंसान कई बार वो काम कर जाता है जो वो करना नहीं चाहता। ऐसा ही कुछ हुआ एयर इंडिया के एक पायलट के साथ। कॉकपिट में बैठ एक पायलट ने ग्राउंड इंजीनियर को गुस्से में कहा ‘प्लेन चढ़ा दूंगा’। ग्राउंड इंजीनियर ने इसकी शिकायत फ्लाइट सेफ्टी डिपार्टमेंट में कर दी। जिसके बाद पायलट को एक महीने के लिए फ्लाइंग ड्यूटी से हटा दिया और काउंसिलिंग के लिए भेजा गया है।

ये घटना दिसंबर 2016 की है। एयर इंडिया का एक पायलट एयर बस ए-320 को दिल्ली से बेंगलुरु की उड़ान पर ले जाने की तैयारी में था। टेक ऑफ से पहले होनेवाली सिक्यॉरिटी चेकिंग के दौरान ग्राउंड इंजीनियर को काफी वक्त लग रहा था। इस देरी की वजह से खीज में पायलट ने ग्राउंड इंजीनियर को कहा ‘प्लेन चढ़ा दूंगा’। इसके बाद ग्राउंड इंजीनियर ने तुरंत ग्राउंड क्लियर कर टेक-ऑफ का सिग्नल दे दिया। प्लेन के टेक-ऑफ होने के बाद इंजीनियर ने पायलट के खिलाफ फ्लाइट सेप्टी डिपार्टमेंट में शिकायत कर दी।

इंजीनियर की इस शिकायत पर तुरंत एक्शन लिया गया और बेंगलुरु में प्लेन लैंड होते ही कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से बातचीत का रिकॉर्ड ले लिया गया। एयर इंडिया के सूत्रों के मुताबिक रिकॉर्डिंग सुनने के बाद हमने शिकायत को सही पाया। हो सकता है पायलट ने ये शब्द मजाक में कहे हों यह भी संभव है कि ऐसा गुस्से में कहा गया हो। लेकिन हमने घटना को गंभीरता से लेते हुए पायलट को एक महीने से ज्यादा वक्त के लिए फ्लाइंग ड्यूटी से हटा दिया है। पायलट के पुराने रिकॉर्ड को चेक करने के बाद उनके स्वभाव के बारे में कोई भी निगेटिव बातें सामने नहीं आई। उनके बारे में पहले से कोई शिकायत भी नहीं हुई है। ऐसे में हो सकता है ये शब्द मजाक में कहे गए हों।

Loading...