हाइवे पर फाइटर प्लेन उतारने की तैयारी में वायुसेना, 21 जगहों की हुई पहचान

नई दिल्ली: वायुसेना ऑपरेशन इमरजेंसी की तैयारी में जुटी है। इसके तहत वायुसेना ने देशभर के ऐसे 21 हाइवे की पहचान की है जहां पर जरुरत पड़ने पर इमरजेंसी के हालात में फाइटर प्लेन को उतारा जा सके। वायुसेना फाइटर प्लेन के साथ साथ उस प्लेन को उताने की भी तैयारी कर रही है जिनका इस्तेमाल प्राकृतिक आपदा में बचाव कार्यों में होता है।

इसके लिए वायुसेना ने जिन हाइवे की पहचान की है उनमें से कुछ भारत पाकिस्तान सीमा के करीब राजस्थान के जैसलमेर और गुजरात के द्वारका में है। ऐसी ही कुछ जगह अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे राज्यों जम्मू कश्मीर, असम, पश्चिम बंगाल, यूपी और उत्तराखंड में हैं। इन जगहों की पहचान में इस बात का ध्यान रखा गया कि फाइटर प्लेन या दूसरे तरह के एयरक्राफ्ट की लैंडिंग में कम से कम संसाधनों की जरुरत हो और कम वक्त में हाइवे पर इस तरह के आपातकालीन लैंडिंग की तैयारी की जा सके।

हाल ही में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सड़क परिवहन मंत्रालय को लिखी चिट्ठी में कहा था कि इसके लिए एक कमेटी बनाई जाए । जो इस बात का पता लगाए कि इस तरह के कितने जगह हैं जिन्हें इस तरह के काम में इस्तेमाल में लाया जा सके। इस कमेटी में हाइवे, रक्षा मंत्रालय और वायु सेना के प्रतिनिधि शामिल हों। पिछले साल मई में वायुसेना ने मिराज प्लेन को मथुरा के पास यमुना एक्सप्रेसवे पर उतारा था।

Loading...

Leave a Reply