यूपी में अवैध बूचड़खानों पर जारी है एक्शन, पूर्व बीएसपी मंत्री के ठिकाने पर छापे


नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में अवैध बूचड़खानों पर युद्ध स्तर पर कार्रवाई चल रही है। अब तक दर्जनों छोटे बड़े बूचड़खानों को सील किया जा चुका है। कई पशु भी वहां से छुड़ाए गए हैं। बूचड़खानों के साथ साथ गौ तस्करी पर भी रोक लगाने के लिए कार्रवाई की जा रही है। इसके लिए अलग अलग शहरों में पुलिस की गश्त तेज कर दी गई है।

मेरठ में पूर्व बीएसपी मंत्री हाजी याकूब कुरैशी और पूर्व सांसद शाहिद अखलाख की मीट फैक्टरियों पर छापेमारी की गई। दरअसल बीजेपी ने अपने चुनावी घोषणापत्र मे ही कह दिया था कि उनकी सरकार आते ही सभी गैरकानूनी बूचड़खाने बंद करने के लिए कदम उठाए जाएंगे साथ ही मशीन से चलनेवाले बूचड़खानों को पूरी तरह से बंद किया जाएगा।

ये भी पढें :

– राम मंदिर पर मुस्लिम बातचीत करें, नहीं तो 2018 में मंदिर के लिए बनाएंगे कानून- स्वामी

पुलिस की इस कार्रवाई के बाद पशु तस्करों में हड़कंप मच गया है। वाराणसी से बड़ागांव और चंदौली के अलीनगर में पश्चिम बंगाल से लाए जा रहे पशुओं से भरा ट्रक छोड़कर पशु तस्कर फरार हो गए। गाजियाबाद में भी 15 से ज्यादा अवैध बूचड़खाने बंद किये गए हैं।

हाथरस में कुछ अज्ञात लोगों ने तीन मीट शॉप में आग लगा दी। मंगलवार की रात ये घटना कांशीराम कॉलोनी में हुई। हाथरस एसपी ने कहा इस मामले में एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई शुरु कर दी गई है।

Loading...