घाटी की महिलाओं के लिए बहुत बड़ा खतरा था अबु दुजाना, करता था अय्याशी- सेना

नई दिल्ली:  लश्कर के जिस टॉप कमांडर को मारने में सुरक्षाबलों ने कामयाबी पाई है वो बहुत बड़ा अय्याश था। एनकाउंटर में दुजाना को ठिकाने लगाने के बाद सेना और पुलिस की तरफ प्रेस कांफ्रेंस की गई। जिसमें सेना की तरफ से कहा गया कि अबु दुजाना बहुत बड़ा अय्याश था। उसकी नजर घाटी की महिलाओं और लड़कियों पर रहती थी। सेना ने कहा अबु दुजाना बहनों के लिए खतरा बन चुका था।

अबु दुजाना पाकिस्तान का था लेकिन काफी वक्त से कश्मीर में ही रह रहा था। और इलाके से चप्पे चप्पे से वाकिफ था। सेना की तरफ से प्रेस कांफ्रेंस कर रहे जीओसी जे संधू ने कहा अबु दुजाना घाटी में अय्याशी कर रहा था। स्थानीय लोग भी उससे काफी परेशान थे। लेकिन अब घाटी के लिए आतंक बन चुका अबु दुजाना मारा जा चुका है। और उसके मारे जाने के बाद स्थानीय लोगों ने भी राहत की सांस ली है। खासकर जिनके घरों में महिलाएं या लड़कियां हैं उनके माता, पिता, पति, भाई ने काफी राहत की सांस ली है।

सेना और पुलिस ने साझा प्रेस कांफ्रेंस किया। जम्मू कश्मीर पुलिस के आईजी मुनीर खान ने कहा दुजाना के मारे जाने के बाद कई जगह पर प्रदर्शन भी हुए हैं लेकिन उन प्रदर्शनों से आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन नहीं रुकेगा। आईजी मुनीर खान से जब ये पूछा गया कि इसके बाद अगला नंबर किसका होगा तो उन्होंने कहा हर आतंकी का नंबर अगला है। जो भी आतंक में शमिल हैं उन सभी का यही हश्र होगा।

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए एनकाउंटर में दुजाना को मारा गया। उसके साथ उसका एक साथी भी मारा गया। मारा गया दूसरा आतंकी स्थानीय आतंकी था। उसका नाम आरिफ लिलहार था। आरिफ को भी मार गिराया गया।

Loading...

Leave a Reply