cyss-poster-and-delhi-university

AAP की स्टूडेंट विंग CYSS नहीं लड़ेगी DUSU चुनाव !

AAP की स्टूडेंट विंग CYSS नहीं लड़ेगी DUSU चुनाव !

आम आदमी पार्टी अपनी छात्र इकाई CYSS को इसबार DU छात्रसंघ चुनाव से दूर रख सकती है। हालांकि इस बारे में पार्टी की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। लेकिन खबरें ऐसी आ रही है कि इसबार CYSS छात्रसंघ चुनाव नहीं लड़ेगी। पार्टी सूत्रों का कहना है कि ABVP या NSUI की तरह उसके पास पैसा और पावर नहीं है इसलिए वो इसबार छात्रसंघ चुनाव लड़ने के पक्ष में नहीं हैं। इसपर जब आम आदमी पार्टी के नेता दिलीप पांडे से पूछा गया तो उनका कहना था कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। पार्टी के इस जवाब से भी काफी हद तक अंदाजा लगाया जा सकता है कि छात्र संघ चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी कुछ खास उत्साहित नहीं है।

इसपर BJP का कहना है कि आम आदमी पार्टी मैदान छोड़कर भाग रही है। दरअसल पिछले बार जब पहली बार आम आदमी पार्टी की छात्र इकाई CYSS छात्रसंघ चुनाव में उतरी थी तो उसे एक भी सीट हासिल नहीं हुई थी।

चुनाव न लड़ने के इस फैसले के पीछे एक वजह ये भी बताई जा रही है कि पंजाब और गोवा में हो रहे विधान सभा चुनाव की वजह से आम आदमी पार्टी CYSS को DU छात्र संघ चुनाव से दूर रखना चाहती है। पिछले साल 2015 में CYSS केजरीवाल को सामने रखकर चुनाव मैदान में उतरी थी। लेकिन इसका कोई फायदा नहीं मिला। इसके बाद पार्टी को इस बात की आशंका है कि अगर नतीजे पिछले बार की तरह रहे और उसके खाते में एक भी सीट नहीं आई तो कहीं इसका असर पंजाब और गोवा के चुनाव पर नहीं पड़े।

DU में हार का मतलब है युवाओं ने पार्टी को नापसंद कर दिया। कहीं DU के युवाओं की ये नापसंदगी पंजाब और गोवा के युवाओं के बीच पहुंच गई तो इन दोनों राज्यों में पार्टी का खेल न बिगड़ जाए।

हलांकि DU छात्रसंघ चुनाव सितंबर के शुरुआत में होता है। अभी इसमें तकरीबन दो महीने का वक्त है। हो सकता है इन दो महीनों में पार्टी छात्रसंघ चुनाव के लिए अपनी तैयारियों को देखकर कोई फैसला ले। लेकिन इस वक्त जिस तरह की चर्चा चल रही है और पार्टी की तरफ से जिस तरह से ठंडी प्रतिक्रिया दी जा रही है उससे तो यही संदेश जा रहा है कि इस बार DU को AAP की तरफ से…ना।
-Arvind Kejriwal, AAM Admi Party

Loading...

Leave a Reply