अरुषी ही नहीं ये 7 मौत की मिस्ट्री भी अबतक नहीं सुलझ सकी है

अरुषी ही नहीं ये 7 मौत की मिस्ट्री भी अबतक नहीं सुलझ सकी है

नई दिल्ली:  आरूषी मर्डर केस की चर्चा आज हर तरफ है। लेकिन इसके अलावे भी कई ऐसी मौत है जो अबतक मिस्ट्री बनी हुई है। हलांकि कई मिस्ट्री ऐसे भी हैं जिन्हें पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद सुलझा लिया। यहां उन सेवन मिस्ट्री की बात कर रहे हैं जो अबतक नहीं सुलझ सकी है।

आरुषी तलवार

अरुषी मर्डर केस से तलवार दंपत्ति की रिहाई ने ये सवाल खड़ा कर दिया कि अगर मम्मी-पापा ने उसे नहीं मारा तो फिर आरुषी और हेमराज का कातिल कौन है। इसी सवाल के जवाब की उम्मीद की जा रही थी। लेकिन सीबीआई ने जिस तरह से जांच की और निचली अदालत में अपनी दलील से तलवार दंपत्ति को दोषी ठहरा दिया, वो सारी दलील इलाहाबाद हाईकोर्ट में धराशायी हो गई। क्योंकि हाईकोर्ट ने सिरे से सीबीआई की सारी दलीलों को खारिज कर दिया। हाईकोर्ट ने साफतौर पर कहा सीबीआई केवल सब्सटेंशियल एविडेंस के आधार पर तलवार दंपत्ति को कातिल मान रही है। लेकिन कोई पुख्ता सबूत नहीं दे सकी है।

दिव्या भारती

बॉलीवुड में 90 के दशक में दिव्या भारती का नाम हर किसी की जुबान पर था। दीवाना से लेकर शोला और शबनम जैसी फिल्मों में अपनी दमदार अभिनय के दम पर उन्होंने काफी कम वक्त में लोगों के दिलों में अपनी जगह बना ली थी। लेकिन 5 अप्रैल 1993 की रात अपनी बिल्डिंग से दिव्या भारती नीचे गिर गई थी। जिसमें उनकी मौत हो गई। दिव्या भारती वर्सोवा में तुलसी अपार्टमेंट की पांचवीं मंजिल से गिरी थी। लेकिन उनकी हत्या की गई या फिर उन्होंने आत्महत्या की इसका पता जांच एजेंसियां नहीं लगा सकीं। जिसके बाद 1998 में मुंबई पुलिस ने मौत को दुर्घटना मानते हुए केस को बंद कर दिया।

डॉ. अश्विनी कुमार बंसल

इलाहाबाद में अश्विनी बंसल की हत्या ने पूरे शहर को हिला कर रख दिया था। अश्विनी बंसल एक जाने माने सर्जन थे। उनकी हत्या उन्हीं के चेंबर में गोली मारकर कर दी गई थी। उस अस्पताल में काफी सुरक्षा थी। लेकिन हत्यारा पेशेवर था। सीसीटीवी फुटेज में भी हत्यारों की तस्वीर कैद हो गई थी। लेकिन पुलिस के पास इस केस को लेकर कोई सुराग नहीं है।

रिजवानूर रहमान

रिजवानूर रहमान कंप्यूटर ग्राफिक्स ट्रेनर था। उसकी मौत की वजह आत्म हत्या बताई गई थी। लेकिन दावा किया गया कि उसकी हत्या की गई है। कोलकाता में उसकी मौत के बाद काफी हंगामा हुआ था। रिजवानूर ने प्रियंका टोडी से लव मैरिज शादी की थी। प्रियंका लक्स कोजी के मालिक अशोक टोडी की बेटी थी। रिजवानूर की लाश रेलवे लाइन पर पड़ी मिली थी। सीबीआई को इस मामले की जांच सौंपी गई। लेकिन सच्चाई अभीतक सामने नहीं आई है।

राजीव दीक्षित

राजीव दीक्षित एक सामाजिक कार्यकर्ता थे। संदिग्ध परिस्थितियों में उनकी मौत हो गई थी। बताया जाता है मौत के बाद उनका पोस्टमार्टम भी नहीं करवाया गया थ। राजीव दीक्षित आयुर्वेद और लोगों की जीवन शैली पर लोगों को जानकारी दिया करते थे। लोग उनकी बातों को बड़े ध्यान से सुनते थे। भारत स्वाभिमान आंदोलन के वे राष्ट्रीय सचिव थे। 30 नवंबर 2010 को छत्तीसगढ़ में संदिग्ध परिस्थितियों में उनकी मौत हुई थी।

प्रद्यूम्न ठाकुर

गुरुग्राम के रायन इंटरनैशनल स्कूल के बाथरूम में प्रद्यूम्न की गला रेतकर हत्या कर दी गई। उसकी हत्या सितंबर महीने में की गई थी। उसकी मौत पर स्कूल के ही बस के कंडक्टर ने अपना जुर्म कबूल कर लिया था। लेकिन बाद में वो कोर्ट में अपने बयान से पलट गया। इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है। प्रद्यूम्न मर्डर केस में स्कूल की भूमिका भी शक के घेरे में रही है।

सुनंदा पुष्कर

सुनंदा पुष्कर कांग्रेस नेता और सांसद शशि थरूर की पत्नी थी। दिल्ली के होटल के कमरे में सुनंदा पुष्कर की लाश मिली थी। जिसके बाद इस मामले में शशि थरूर से भी पूछताछ हो चुकी है। लेकिन अबतक ये साफ नहीं हो पाया है कि सुनंदा पुष्कर ने आत्म हत्या की थी उनकी हत्या की गई थी। ये मौत आज भी एक मिस्ट्री बनी हुई है।

Loading...

Leave a Reply