500 और 1000 के नोट बंद होने से बढ़ गया इनका कारोबार!

नई दिल्ली:  जब से ये ऐलान हुआ है कि 500 और 1000 के नोट बंद हो गए हर कोई परेशान है। बाजार में ग्राहक कम हो गए और दुकानदार ग्राहकों के इंतजार में हैं। लेकिन ग्राहक दुकान पहुंचने से पहले बैंकों के सामने लाइन में खड़े होते हैं ताकि वो अपने पुराने नोट बदलकर छुट्टे पैसे ले सकें।

लेकिन जहां बाजार में सन्नाटा है वहां एक मंडी ऐसी भी है जहां 500 और 1000 का नोट बंद होने के बाद कारोबार बढ़ गया। दिल्ली का जीबी रोड इसी में शामिल है। जहां के कोठों की लड़कियों का कारोबार बढ़ गया है। जिन कोठों पर देहव्यापार के लिए 200-300 रुपये मांगे जाते थे अब वहां 500 और 1000 रुपये के नोट देने पर उनकी वापसी नहीं होती है। इस बारे में कोठा पर आनेवाले ग्राहकों को पहले ही बता दिया जाता है।

जो लोग मुजरा के शौकीन हैं उनको भी ये शौक महंगा पड़ रहा है। क्योंकि मुजरे के वक्त लुटाने के लिए 10-20 रुपये के नोटों की गड्डियां कम पड़ गई है। दरअसल पहले छोटे नोटों के बंडल कोठा संचालकों की तरफ से ही ग्राहकों को मुहैया करवाया जाता था। लेकिन 500-1000 के नोट बंद होने के बाद से छोटे नोटों की कमी हो गई है। जिसकी वजह से 10-10 के नोटों के हजार रुपये की गड्डी पांच हजार में बेची जा रही है। इसके बावजूद भी जिन्हें शौक है वो उसे पूरा करने कोठों पर जा रहे हैं।

Loading...