naahid-afrin

16 साल की इस सिंगर के खिलाफ 46 मौलानाओं ने जारी किया फतवा

16 साल की इस सिंगर के खिलाफ 46 मौलानाओं ने जारी किया फतवा




नई दिल्ली: असम की 16 साल की सिंगर नाहिद आफरीन इन दिनों मौलानाओं के निशाने पर हैं। नाहिद के खिलाफ 46 मौलानाओं ने फतवा जारी किया है। जिससे कि उसे सार्वजनिक मंच पर गाने से रोका जा सके। नाहिद 2015 में रियलिटी टीवी शो इंडियन आइडल जूनियर में फर्स्ट रनर-अप रही थीं। लेकिन नाहिद की सुरीली आवाज मौलानाओं के कानों को चुभने लगी है।

हाल ही में नाहिद ने आतंकी संगठन ISIS समेत दूसरे आतंकी संगठनों के खिलाफ भी गाने गाए थे। उसके बाद इस तरह का फतवा जारी होना कई सवालों को जन्म देता है। पुलिस ने अपनी जांच में ISIS के खिलाफ गाना गाने के एंगल से भी जांच कर रही है। मौलानाओं ने जो फतवा जारी किया है उसके मुताबिक म्यूजिकल नाइट जैसी चीजें शरिया के खिलाफ हैं। ऐसी चीजें अगर मस्जिद, ईदगाह, मदरसा और कब्रिस्तान के करीब होने लगीं तो उनकी आनेवाली पीढ़ी अल्लाह की नाराजगी झेलनी पड़ेगी।

नाहिद को 25 मार्च को असम के लंका इलाके में उदाली सोनई बीबी कॉलेज में कार्यक्रम पेश करना है। लेकिन मौलानाओं की एक टोली नाहिद के खिलाफ खड़ी हो गई है और उसके खिलाफ फतवा जारी कर दिया है। नाहिद अभी 10वीं क्लास में पढ़ती है। मौलानाओं की तरफ से जारी फतवे पर नाहिद ने कहा मुझे लगता है मेरा संगीत अल्लाह का तोहफा है। ऐसी धमकियों के आगे मैं झुकने वाली नहीं।
वहीं राज्य सरकार ने भी नाहिद को सुरक्षा का भरोसा दिया है।

Loading...

Leave a Reply