प्रद्यूम्न मर्डर केस में जांच कमेटी की रिपोर्ट में स्कूल कसूरवार

नई दिल्ली:  गुरुग्राम के रायन इंटरनैशनल स्कूल में हुई प्रद्यूम्न की मौत पर बनी तीन सदस्यों की जांच कमिटी की रिपोर्ट आ गई है। इस रिपोर्ट में स्कूल में कई खामियां पाई गई हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि स्कूल के सीसीटीवी कैमरे खराब थे, स्कूल के बाउंड्री वाल भी टूटे हुए थे, स्कूल में कर्मचारियों का अलग टॉयलेट नहीं था, स्कूल के जो कर्मचारी हैं उनका भी पुलिस वेरिफिकेशन नहीं करवाया गया था। स्कूल में अग्निशमन यंत्र भी नहीं था।

तीन सदस्यों के पैनल की रिपोर्ट सामने आने के बाद गुरुग्राम डीसी ने राज्य के शिक्षा सचिव से कार्रवाई की सिफारिश कर दी है। तीन सदस्यों की रिपोर्ट से से ये साफ हो रहा है कि स्कूल ने छात्रों की सुरक्षा में कई स्तरों पर लापरवाही बरती थी।

इससे पहले हरियाणा के शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा ने भी रविवार को गुरुग्राम के रायन स्कूल का दौरा किया था। जिसमें उन्होंने ये बात कही थी कि स्कूल में कई कमियां पाई गई हैं। बाउंड्री वाल के टूटे होने की बात उन्होंने भी कही थी।

वहीं हरियाणा सरकार में राज्य में शराब के ठेकों को लेकर बड़ा फैसला किया है। जिसमें ये तय किया गया है कि राज्य के किसी भी स्कूल से 400 मीटर के दायरे में कोई भी शराब के ठेके नहीं होंगे। दरअसल गुरुग्राम के रायन इंटरनैशनल स्कूल से महज 100 मीटर की दूरी पर बने शराब के ठेके में अभिभावकों ने आग लगा दी थी। जिसके बाद सरकार ने ये फैसला किया है।

गुरुग्राम में रविवार को पुलिस ने अभिभावकों पर लाठीचार्ज भी किया। इस पूरी घटना को कवर कर रहे पत्रकारों को भी पुलिस ने नहीं छोड़ा। कई पत्रकारों को गंभीर चोट आई है। सांसद पप्पू यादव भी स्कूल के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। उनका आरोप था कि पुलिस ने उन्हें भी बेरहमी से पीटा। हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा रविवार को पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे।

पीड़ित परिवार कंडक्टर के इकबालिया बयान की सच्चाई को मानने के लिए तैयार नहीं है। परिवार की तरफ से लगातार इस जघन्य हत्याकांड की सीबीआई जांच की मांग की जा रही है। प्रद्यूम्न के माता-पिता का कहना है कि उनके बेटे की हत्या एक साजिश है।

Loading...

Leave a Reply