गुजरात में स्वाइन फ्लू से 230 लोगों की मौत, केंद्र सरकार से मांगी मदद

नई दिल्ली:  गुजरात में स्वाइन फ्लू से बीमार होनेवालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। अबतक स्वाइन फ्लू की वजह से राज्य में 230 लोगों की मौत हो चुकी है। बिगड़ते हालात को देखते हुए सीएम विजय रूपाणी में केंद्र से मदद मांगी है। सीएम ने कहा का विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम भेजने का आग्रह किया गया है।

वडोदरा में अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद सीएम ने कहा कि राज्य में स्वाइन फ्लू से अबतक 200 से ज्यादा  लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 2100 मामले पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से सबसे ज्यादा मामले वडोदरा में सामने आए हैं जहां 1200 स्वाइन फ्लू के मरीज पाए गए हैं। इसके अलावे सूरत, अहमदाबाद और राजकोट में भी स्वाइन फ्लू के मरीज हैं।

गंभीर हालात को देखते हुए सीएण रूपाणी ने कहा कि टेमीफ्लू की कोई कमी नहीं है। सभी सरकारी अस्पतालों मे टेमीफ्लू मुफ्त दिया जा रहा है। निजी अस्पतालों में भी स्वाइन फ्लू का इलाज मुफ्त किया जा रहा है। राज्य सरकार की तरफ से जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया कि जनवरी से अबतक स्वाइन फ्लू से 230 लोगों की मौत हो चुकी है। जनवरी से अबतक स्वाइन फ्लू के 2272 मरीज पाए गए हैं। इनमें से 857 मरीजों का इलाज हो चुका है, 1225 लोगों का इलाज चल रहा है जबकि 230 लोगों की मौत हो चुकी है।

Loading...

Leave a Reply