सीएम योगी ने 20 IAS अफसरों के किये तबादले, कई बड़े अधिकारी वेटिंग लिस्ट में डाले गए

लखनऊ: यूपी में प्रशासनिक महकमों के अफसरों में बड़ा बदलाव किया गया है। इसके तहत 20 सीनियर आईएएस अफसरों के तबादले किये गए हैं। इसके तहत सीएम के प्रमुख सूचना सचिव नवनीत सहगल और नोएडा अथॉरिटी के चेयरमैन रमा रमण को हटा दिया गया है। हटनेवालों में भुवनेश कुमार भी हैं। जिन्हें लखनऊ के कमिश्नर के पद से हटा दिया गया है।

आबकारी आयुक्त मृत्युंजय कुमार नारायण को मुख्यमंत्री का सचिव बनाया गया है। इसके अलावे भी कई दूसरे विभागों की जिम्मेदारी उनके पास होगी। निवेश आयुक्त अमित मोहन प्रसाद को वर्तमान पद के साथ नोएडा और ग्रेटर नोएडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी पद का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।

ये भी पढें :

– स्वच्छता के इस पोस्टर को देखकर पीएम मोदी भी हंस पड़े और कर दी तारीफ

इसके साथ ही प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल, अनीता सिंह, डिंपल वर्मा, नोएडा अथॉरिटी चेयरमैन रमा रमण और गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के विजय यादव को पद से हटाकर वेटिंग लिस्ट में रखा गया है। अखिलेश सरकार में कई अलग अलग विभागों के प्रमुख रहे नवनीत कुमार सहगल को भी सभी विभागों से हटा दिया गया है और उन्हें भी वेटिंग फॉर पोस्टिंग में रखा गया है। उनके सभी पदों का जिम्मा अवनीश कुमार अवस्थी को दिया गया है।

पिछली सरकार में ताकतवर अधिकारी रहीं अनिता सिंह को सिविल एविएशन और स्टेट प्रॉपर्टी डिपार्टमेंट के प्रमुख सचिव के पद से जबकि डॉ. हरिओम को कल्चर सेक्रेटरी पद से हटा दिया गया है और उन्हें फिलहाल कोई तैनाती नहीं दी गई है।

भूतत्व और खनिकर्म विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. गुरदीप सिंह को हटाकर प्रीतीक्षा सूची में रखा गया है। राजस्व परिषद के सदस्य राज प्रताप सिंह को गुरदीप का प्रभार सौंपा गया है। वह राजस्व परिषद के सदस्य का जिम्मा अतिरिक्त प्रभार के रुप में उठाएंगे।

ये भी पढें :

– सीएम योगी ने अफसर पर कर दी है पहली बड़ी कार्रवाई, अब खुलेंगे गड़बड़ी के कई राज

हथकरघा और वस्त्र उद्योग आयुक्त और केस्को के प्रबंध निदेशक रणवीर प्रसाद को वर्तमान पद के साथ उत्तर प्रदेश राज्य उद्योग निगम और उत्तर प्रदेश लघु उद्योग निगम के प्रबंध निदेशक और उद्योग आयुक्त और निदेशक पद का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।

Loading...

Leave a Reply