Maharaja-Yeshwantrao-Hospital

इंदौर के इस बड़े अस्पताल में एक दिन में 17 मरीजों की मौत हो गई

इंदौर के इस बड़े अस्पताल में एक दिन में 17 मरीजों की मौत हो गई

नई दिल्ली:  मध्य प्रदेश में महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय का नाम बड़े ही शान के साथ लिया जाता है। लेकिन इसी अस्पताल में लापरवाही का ऐसा खेल हुआ कि एक ही दिन में अस्पताल में भर्ती 17 मरीजों की मौत हो गई। आरोप ये लगाए जा रहे हैं कि ऑक्सीजन की सप्लाई रूक जाने की वजह से मरीजों की मौत हो गई। लेकिन अस्पताल प्रशासन ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने की बात मानने से इनकार कर रहा है। तो फिर मरीजों की मौत क्यों और कैसे हुई वो भी 17 की तो उस वजह को बताने में अस्पताल प्रशासन का गला सूख गया और आवाज बाहर नहीं निकली।

इसी महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय में अपने पिता का इलाज करा रहे एक युवक ने कहा उनके पिता भी इसी अस्पताल में भर्ती थे। 22 जून की रात ऑक्सीजन की सप्लाई अचानक रूक गई और उनके पिता की मौत हो गई। मृतक के बेटे ने कहा दो नर्स आपस में बात कर रही थीं कि ऑक्सीजन खत्म हो गई है। एक डेढ़ घंटे बाद बाहर आकर बोल दिया कि तुम्हारे पिताजी शांत हो गए हैं। उसने बताया उसकी आंखों के सामने तीन-चार लोगों की मौत हुई।

वहीं एक दिन में हुई 17 मौतों पर एमवाय अस्पताल के अधीक्षक बीएस पाल का कहना है सभी डेथ उनकी नहीं हुई है जो ऑक्सीजन पर थे। हमारे पास 40 वेंटिलेटर हैं। सभी मरीज उन पर हैं। अगर ऑक्सीजन की सप्लाई बाधित होती तो सभी पर होती। अस्पताल प्रशासन पर सवाल इसलिए भी खड़े हो रहे हैं क्योंकि जब उनसे मरीजों की लिस्ट मांगी गई तो उन्होंने लिस्ट देने से इनकार कर दिया। वजह ये बताई गई कि कई मरीज कई तरह का इलाज करा रहे हैं उनके बारे में इस तरह से जानकारी नहीं दी जा सकती है। लेकिन मौत की वजह क्या है इसपर भी कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया है अस्पताल प्रशासन की तरफ से।

Loading...

Leave a Reply