सीएम योगी के लिए सिरदर्द बना सहारनपुर, अभी भी हिंसा जारी, अबतक 24 गिरफ्तार

लखनऊ:  सहारनपुर में हालात सुधर नहीं रहे हैं मंगलवार को सहारनपुर में मायावती की सभा से लौट रहे दलितों पर हमला किया गया। जिसमें एक युवक की मौत हो गई। जबकि बाकी लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मंगलवार को दो समुदायों के बीच हुई इस ताजा हिंसा में 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मृतक के परिजन को 15 लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने का एलान किया है। बीएसपी सुप्रीमो मायावती मंगलवार को ही सहारनपुर के पीड़ित दलितों से मिलने गई थीं। जिसके बाद एकबार फिर से हिंसा भड़क उठी।

उधर राज्य सरकार ने अधिकारियों को जल्द सहारनपुर में शांति बहाली करने के आदेश दिये हैं। राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा 6 वरिष्ठ अधिकारियों  के दल को जल्द सहारनपुर पहुंचने के निर्देश दिये गए हैं। उन्होंने कहा ये अधिकारी सहारनपुर में शांति बहाली सुनिश्चित करेंगे।

दूसरी तरफ सहारनपुर पर सियासत भी शुरु हो गई है। बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा बीएसपी दलितों की नहीं सबकी पार्टी है। हम समानता लाना चाहते हैं। बीजेपी लड़ाना चाहती है। आप लोगों को आपस में नहीं लड़ना चाहिए। मायावती के निशाने पर राज्य की योगी सरकार भी रही। मायावती ने सीएम योगी पर भी कई गंभीर आरोप लगाए। मायावती ने यहां तक कह दिया मुझे हेलीकॉप्टर से नहीं आने दिया इसलिए सड़क से आना पडा। 5-6 घंटे लग गए लेकिन इसमें मेरा राजनीतिक फायदा हो गया। मायावती के इस बयान से जाहिर होता है कि उनका सहारनपुर दौरा उनकी सियासत का हिस्सा था ना कि सहानुभूति का।

Loading...