बुलंदशहर गैंगरेप का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, वारदात से पहले आरोपियों ने पी थी शराब

बुलंदशहर गैंगरेप के मुख्य आरोपी को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। मुख्य आरोपी सलीम बावरिया की निशानदेही पर मामले के दो और आरोपी जुबैर और साजिद को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद मेरठ जोन के आईजी सुजीत पांडे ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया की पीड़ित ने आरोपियों की पहनाच कर ली है।
आईजी के मुताबिक आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए 18 टीमें बनाई गई थी। पुलिस के मुताबिक 30 जुलाई को आरोपियों ने पहले जी भरकर शराब पी और नशे की हालत में महिलाओं से लूटपाट और सामूहिक बलात्कार की घटन को अंजाम दिया। अपराध के बाद दो आरोपी झारखंड भाग गए थे। जबकि बाकी आरोपी मवाना होते हुए बिजनौर भागने की तैयारी में थे। आईजी ने बताया कि मौके से शराब की जो बोतल बरामद की गई है उसपर कुछ उंगलियों के निशान पाए गए हैं। जिसकी जांच की जा रही है।
मामले में मास्टरमाइंड सलीम बावरिया समेत 6 आरोपी गिरफ्तार किये जा चुके हैं। जबकि सातवां आरोपी अभी गिरफ्त से बाहर है। पूछताछ में सलीम ने बताया कि उसका अपना गिरोह है। गिरोह राजस्थान का है लेकिन आसपास के राज्यों में भी वारदात को अंजाम देता है। आरोपियों के पास से पीड़ित परिवार के गहने भी बरामद हुए हैं। इनके पास से पिस्तौल भी बरामद हुई है।
30 जुलाई को बुलंदशहर में हाईवे पर कुछ बदमाशों ने नोएडा से शाहजहांपुर जा रहे परिवार को रोककर पहले कार में सवार परिवार का अपहरण कर लिया। इसके बाद परिवार के पुरुष सदस्यों को बंधक बनाकर उनके सामने मां और नाबालिग बेटी के साथ गैंगरेप किया गया। इस वारदात के बाद यूपी की कानून व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठ रहे थे। सीएम अखिलेश यादव ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया था। पीड़ित परिवार ने धमकी दी थी कि अगर उन्हें तीन महीने में न्याय नहीं मिलता है तो वो खुदकुशी कर लेंगे। हर तरफ से बढ़ते दवाब के बाद पुलिस ने अपनी जांच में तेजी लाई। जिसके बाद 6 आरोपी गिरफ्तार किये गए हैं। लेकिन एक आरोपी अब भी फरार है।

Loading...