पाकिस्तान से छीना गया मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा, CCS की बैठक में फैसला

नई दिल्ली:  जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमला पर शुक्रवार को पीएण आवास पर सीसीएस की बैठक बुलाई गई। जिसमें पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में पाकिस्तान को अलग थलग किये जाने पर फैसले लिये गए। इसी के तहत पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन यानि एमएफएन का दर्जा वापस लिया गया है। भारत ने पाकिस्तान को 1996 में मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा दिया था। लेकिन पाकिस्तान की तरफ से कभी भी भारत को एमएफएन का दर्ज नहीं दिया गया।

सीसीएस की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा अंतरराष्ट्रीय मंच पर पाकिस्तान को पूर्ण रुप से अलग थलग करने के लिए कूटनीतिक कदम उठाए जाएंगे। जेटली ने कहा सरकार शनिवार को सर्वदलीय बैठक बुलाएगी। जेटली ने कहा कि इस घटना को अंजाम देनेवालों और उसका समर्थन करनेवालों को बड़ी कीमत चुकानी होगी।

क्या है मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा?

विश्व व्यापार संगठन यानि डब्लूटीओ और अंतरराष्ट्रीय व्यापार के नियमों के आधार पर व्यापार में सर्वाधिक तरजीह वाला देश यानि एमएफएन का दर्जा दिया जाता है। इसके तहत ये आश्वासन रहता है कि उसे व्यापार में किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा। एमएफएन के तहत आयात-निर्यात में विशेष छूट मिलती है। इस दर्जा प्राप्त देश से व्यापार सबसे कम आयात शुल्क पर होता है।

(Visited 25 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *